ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेश वाराणसीबनारस-वाराणसी सिटी स्टेशन पर बेहतर होंगी सुविधाएं

बनारस-वाराणसी सिटी स्टेशन पर बेहतर होंगी सुविधाएं

पूर्वोत्तर रेलवे की महाप्रबंधक सौम्या माथुर ने गुरुवार को यहां कहा कि छह माह में वाराणसी सिटी और बनारस स्टेशन नए लुक में दिखेंगे। गोरखपुर से स्पेशल...

बनारस-वाराणसी सिटी स्टेशन पर बेहतर होंगी सुविधाएं
हिन्दुस्तान टीम,वाराणसीFri, 01 Dec 2023 01:45 AM
ऐप पर पढ़ें

वाराणसी, संवाददाता।
पूर्वोत्तर रेलवे की महाप्रबंधक सौम्या माथुर ने गुरुवार को यहां कहा कि छह माह में वाराणसी सिटी और बनारस स्टेशन नए लुक में दिखेंगे। गोरखपुर से स्पेशल यान से वह पहले वाराणसी सिटी स्टेशन पहुंचीं। विकास कार्यों, सुरक्षा, साफ-सफाई, खान-पान व यात्री सुविधाओं की हकीकत परखी। उन्होंने प्लेटफॉर्म संख्या-1 पर स्थित लाउंज में स्टेशन के पुनर्विकास के मॉडल व ले-आउट प्लान को देखा। वहीं, लगभग 59 करोड़ से अमृत भारत स्टेशन योजना के तहत चल रहे कार्यों के प्रगति की समीक्षा की।

यात्री प्रतीक्षालय, सामान्य यात्री हाल, फुट ओवरब्रिज, आईआरसीटीसी संचालित खान-पान स्टाल व जन आहार, पे एंड यूज शौचालय, यात्री निवास, आरआरआई पैनल रूम व अनारक्षित टिकट केंद्र की व्यवस्था व सुविधाएं देखीं। उन्होंने प्लेटफॉर्म संख्या-1 पर स्थित ओडीओपी स्टाल पर मिलने वाले उत्पादों की जानकारी ली। इसके बाद बनारस स्टेशन पर उन्होंने प्लेटफॉर्म संख्या-8 पर उपलब्ध यात्री सुविधाओं का हाल जाना। स्कैनर, ओडीओपी स्टाल, लिफ्ट, एफओबी, एस्केलेटर का निरीक्षण करते हुए प्लेटफार्म संख्या-1 पर पहुंचीं और स्टेशन पुनर्विकास के मॉडल ले-आउट प्लान को देखा। इस दौरान लगभग 53 करोड़ से अमृत भारत स्टेशन योजना के तहत चल रहे प्लेटफॉर्म संख्या-1 साइड में नये भवन के निर्माण समेत अन्य योजनाओं की समीक्षा की। इस दौरान डीआरएम विनीत कुमार श्रीवास्तव, एडीआरएम राजेश कुमार सिंह व रोशन लाल यादव, सीपीएम (गतिशक्ति) कौशलेश सिंह, चीफ इंजीनियर पन्ना लाल, सीपीआरओ पंकज कुमार सिंह, उप महाप्रबंधक कृष्ण चंद्र सिंह, सचिव (महाप्रबंधक) आनंद ऋषि श्रीवास्तव समेत अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

संरक्षा और समयबद्ध परिचालन को दें प्राथमिकता

लहरतारा स्थित डीआरएम कार्यालय के सभागार में जीएम ने वाराणसी मंडल में चल रहे विकास कार्यों की समीक्षा में कहा कि संरक्षा और गाड़ियों के समयबद्ध परिचालन को सर्वोच्च प्राथमिकता पर रखें। जीएम ने निर्धारित लक्ष्यों को तय समय के भीतर पूरा करने और इन्फ्रास्ट्रक्चर का विकास व विस्तार से जुड़े कार्यों में तेजी लाने का निर्देश दिया। डीआरएम विनीत कुमार श्रीवास्तव ने अमृत भारत स्टेशन पुनर्विकास, दोहरीकरण, तीसरी लाइन व नई लाइन निर्माण परियोजनाओं पर पावर प्वाइंट प्रेजेंटेशन के माध्यम से रिपोर्ट प्रस्तुत की।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें