DA Image
22 फरवरी, 2020|7:18|IST

अगली स्टोरी

तुला

21 फ़र॰ 2020

आशा-निराशा के मिश्रित भाव मन में रहेंगे। पारिवारिक जीवन सुखमय रहेगा, लेकिन जीवनसाथी से मनमुटाव भी हो सकता है। नौकरी में तरक्की के अवसर मिल सकते हैं। मन में चिड़चिड़ापन रहेगा। कारोबार की स्थिति में सुधार होगा। लाभ के अवसर बढ़ेंगे। (पं.राघवेन्द्र शर्मा)

तुला

22 फ़र॰ 2020

मन में शान्ति एवं प्रसन्नता के भाव रहेंगे। आत्मविश्वास में वृद्धि होगी। माता का सानिध्य एवं सहयोग मिलेगा। वाहन सुख में वृद्धि होगी। मन अशान्त रहेगा। धर्म-कर्म में रुचि बढ़ेगी। सेहत के प्रति सतर्क रहें। माता-पिता का साथ मिलेगा। परिश्रम अधिक रहेगा। (पं.राघवेन्द्र शर्मा)

तुला

23 फ़र॰ 2020

आत्मविश्वास में कमी रहेगी। वाणी में कठोरता का प्रभाव रहेगा। बातचीत में संतुलन बनाए रखें। नौकरी में अफसरों का सहयोग मिलेगा तरक्की के मार्ग प्रशस्त होंगेक्षणे रूष्टा-क्षणे तुष्टा की मनः स्थिति रहेगी। धार्मिक कार्यों में व्यस्तता बढ़ सकती है। (पं.राघवेन्द्र शर्मा)

तुला

week8-2020

तुला : (23 सितंबर-23 अक्तूबर)
आत्म विश्वास से लबरेज रहेंगे, लेकिन आत्म संयत रहें। आलस्य की अधिकता रहेगी, घर-परिवार की सुख सुविधाओं का विस्तार होगा। जीवन साथी से मनमुटाव हो सकता है। कार्यक्षेत्र में परिवर्तन संभव है, परिश्रम की अधिकता रहेगी। माता का सानिंध्य व सहयोग मिलेगा। लाभ में वृद्धि की संभावना है। नौकरी में अफसरों का सहयोग मिलेगा, कार्यक्षेत्र में परिवर्तन की संभावना बन रही है। परिश्रम की अधिकता रहेगी।  (पं. राघवेंद्र शर्मा)

तुला

1 फ़र॰ 2020

मास के प्रारंभ में मानसिक शांति रहेगी। आठ फरवरी के बाद से धैर्यशीलता में वृद्धि होगी। परंतु कार्यक्षेत्र में परिश्रम अधिक रहेगा। मित्रों से वैचारिक मतभेद हो सकते हैं। स्वास्थ्य के प्रति भी सचेत रहें। शैक्षिक एवं बौद्धिक कार्यों में व्यस्तता बढ़ेगी। वाहन के रखरखाव पर खर्च बढ़ सकते हैं। अधिक खर्चों से चिंतित रहेंगे। (पंडित राघवेंद्र शर्मा)

तुला

1 जन॰ 2020

तुला-(23 दिसम्बर-23 अक्टूबर)

वर्ष के प्रारम्भ में मानसिक शान्ति रहेगी। आत्मविश्वास से परिपूर्ण रहेंगे, परन्तु 8 फरवरी तक वाणी में कठोरता का प्रभाव भी रहेगा। 25 जनवरी से पिता को स्वास्थ्‍य  विकार हो सकते हैं। भवन सुख में वृद्धि होगी। सुख-सुविधाओं का विस्तार भी हो सकता है। परन्तु स्वास्थ्‍य विकार बढ़ सकता है। विशेष रूप से खान-पान के प्रति सचेत रहें। 30 मार्च से पिता के स्वास्थ्‍य में सुधार होना प्रारम्भ होगा, लेकिन कारोबार में व्यवधान आ सकते हैं। शैक्षिक कार्यों के परिणाम असन्तोषजनक हो सकते हैं। 01 जुलाई से 14 सितम्बर के मध्य कार्यक्षेत्र में विपरीत परिस्थितियों का सामना करना पड़ सकता है। 24 सितम्बर के बाद नौकरी में स्थान परिवर्तन के आसार बनेंगे। स्वास्थ्‍य संबंधी समस्याएं भी उत्पन्न हो सकती हैं। परिवार का साथ मिलेगा। वर्ष के आखिर में किसी बुजुर्ग महिला से धन प्राप्ति हो सकती है।

उपाय-

1:प्रत्येक बृहस्पतिवार के दिन यथाशक्ति पीले कपड़े में चने की दाल बांध कर मन्दिर के पुजारी को दान किया करें। 2:शनिवार के दिन प्रातःशिवलिंग पर जटा सहित पानी वाला नारियल (ब्राउन रंग का) चढ़ावा करें।

3: मंगलवार के दिन रोटी में गुड रखकर गाय को खिलाया करें। (पं.राघवेन्द्र शर्मा)