ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News देश'खटाखट बढ़ गई महंगाई', कर्नाटक में पेट्रोल-डीजल की कीमतें बढ़ने पर हंगामा; NDA का हल्लाबोल

'खटाखट बढ़ गई महंगाई', कर्नाटक में पेट्रोल-डीजल की कीमतें बढ़ने पर हंगामा; NDA का हल्लाबोल

एचडी कुमारस्वामी ने कहा, 'मैं राज्य के लोगों से कहना चाहता हूं कि आपके टैक्स का पैसा इस सरकार की ओर से लूटा जा रहा है। मैं राज्य के लोगों से बड़े स्तर पर विरोध करने की अपील करता हूं।'

'खटाखट बढ़ गई महंगाई', कर्नाटक में पेट्रोल-डीजल की कीमतें बढ़ने पर हंगामा; NDA का हल्लाबोल
Niteesh Kumarलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीSun, 16 Jun 2024 09:21 PM
ऐप पर पढ़ें

कर्नाटक में पेट्रोल और डीजल की कीमतें बढ़ने पर हंगामा मचा हुआ है। भाजपा समेत एनडीए घटक दलों के तमाम नेता इसे लेकर कांग्रेस पर हमलावर हैं। केंद्रीय पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने पेट्रोल-डीजल के दाम में 3 रुपये की बढ़ोतरी को लेकर कर्नाटक सरकार की आलोचना की। उन्होंने दावा किया कि बीजेपी की सत्ता वाले राज्यों में कीमतें कम हैं। पुरी ने एक्स में पोस्ट किया, 'खटाखट बढ़ गई महंगाई। इस फैसले की वजह से कर्नाटक के लोगों को खाद्य पदार्थों, कपड़ों, दवाओं और जरूरत की सभी वस्तुओं के लिए अधिक रकम चुकानी होगी। ईंधन की कीमतें सीधे तौर पर दूसरी वस्तुओं के दाम पर असर डालती हैं। चुनाव बीतते ही इस तरह के फैसले कांग्रेस के पाखंड को उजागर करते हैं। यह पार्टी लहंगे के बारे में बात करती है मगर भाजपा शासित राज्यों की तुलना में अतिरिक्त वैट वसूलती है।'

केंद्रीय मंत्री एचडी कुमारस्वामी ने भी पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी के बाद कांग्रेस के नेतृत्व वाली कर्नाटक सरकार पर हमला बोला है। जनता दल (सेक्युलर) नेता ने कहा, 'मैं राज्य के लोगों से कहना चाहता हूं कि आपके टैक्स का पैसा इस सरकार की ओर से लूटा जा रहा है। मैं राज्य के लोगों से बड़े स्तर पर विरोध करने की अपील करता हूं।' मालूम हो कि लोकसभा चुनाव 2024 के नतीजों के ठीक बाद कर्नाटक में ईंधन की कीमतों में बढ़ोतरी हुई। इस फैसले को लेकर विपक्षी जद (एस) और भारतीय जनता पार्टी सिद्धारमैया के नेतृत्व वाली सरकार के खिलाफ हैं। विपक्षी दलों को ओर से इसे लेकर जमकर हमले बोले जा रहे हैं। 

सिद्धारमैया ने बचाव में क्या कहा 
दूसरी ओर, कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी का बचाव करते नजर आए। उन्होंने कहा कि इससे आवश्यक सार्वजनिक सेवाओं और विकास परियोजनाओं को वित्त पोषण सुनिश्चित होगा। सीएम ने कहा कि कीमतों में वृद्धि के बाद भी ईंधन पर कर अधिकांश दक्षिणी राज्यों की तुलना में कम है। सिद्धारमैया ने कहा, 'कर्नाटक सरकार ने पेट्रोल पर वैट (मूल्य वर्द्धित कर) बढ़ाकर 29.84 प्रतिशत और डीजल पर 18.44 प्रतिशत कर दिया है। इस बढ़ोतरी के बावजूद अधिकांश दक्षिण भारतीय राज्यों और महाराष्ट्र जैसे समान अर्थव्यवस्था वाले राज्यों की तुलना में ईंधन पर हमारे राज्य में कर कम है।' उनके अनुसार, पेट्रोल पर वैट 25 प्रतिशत है और साथ ही 5.12 रुपये अतिरिक्त कर है, जबकि महाराष्ट्र में डीजल पर वैट 21 प्रतिशत है। उन्होंने बताया कि कर्नाटक की संशोधित दरें अन्य राज्यों की तुलना में अभी भी अधिक वहनीय हैं।
(एजेंसी इनपुट के साथ)