ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशराहुल गांधी का काफिला निकलते ही गंगाजल से धोई गई सड़क, वाराणसी में भारत जोड़ो न्याय यात्रा का विरोध 

राहुल गांधी का काफिला निकलते ही गंगाजल से धोई गई सड़क, वाराणसी में भारत जोड़ो न्याय यात्रा का विरोध 

दूसरे पड़ाव पर शनिवार को वाराणसी पहुंची राहुल गांधी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा का जमकर विरोध किया। राहुल गांधी के सामने जमकर नारेबाजी हुई। कुछ लोगों ने मोदी-मोदी के भी नारे लगाए।

राहुल गांधी का काफिला निकलते ही गंगाजल से धोई गई सड़क, वाराणसी में भारत जोड़ो न्याय यात्रा का विरोध 
Dinesh Rathourलाइव हिन्दुस्तान,वाराणसीSat, 17 Feb 2024 06:50 PM
ऐप पर पढ़ें

दूसरे पड़ाव पर शनिवार को वाराणसी पहुंची राहुल गांधी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा का जमकर विरोध किया। राहुल गांधी के सामने जमकर नारेबाजी हुई। कुछ लोगों ने मोदी-मोदी के भी नारे लगाए। वाराणसी में कुछ लोगों ने राहुल गांधी की इस यात्रा का विरोध करते हुए भगवा झंडा भी दिखाया। राहुल गांधी की न्याय यात्रा का काफिला गुजरने के बाद भाजपाइयों ने उस रास्ते को गंगाजल से धोया। इसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। राहुल गांधी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा भदोही से होकर वाराणसी पहुंची थी। खुली जीप में सवार राहुल गांधी कांग्रेस के अन्य नेताओं के साथ जब गोदौलिया चौराहे पर पहुंचे तो उनकी यात्रा कुछ देर के लिए रुक गई। यहां पर राहुल गांधी ने लोगों को संबोधित भी किया। गोदौलिया चौराहे पर राहुल के भाषण के दौरान दशाश्वमेध की ओर जाने वाले रास्ते पर चंद भाजपाई पार्टी का झंडा लेकर राहुल के विरोध में नारे लगाने लगे। हालांकि कांग्रेसियों की नारेबाजी में उनकी आवाज पूरी तरह दब गई। जब राहुल का काफिला गिरजाघर की ओर बढ़ गया तो भाजपाइयों ने चौराहे को गंगाजल से धोया। यह देख एक वरिष्ठ कांग्रेसी ने तंज किया कि राहुल गांधी तो जीप से उतरे ही नहीं, चौराहा धोकर क्या होगा। भाजपाइयों से जब इसका कारण पूछा गया तो बताया कि, कांग्रेस नेताओं के साथ राहुल गांधी के वाराणसी आने पर काशी अशुद्ध हो गई है, इसलिए गंगाजल से काशी की उन सड़कों और चौराहों का शुद्धिकरण किया गया है जहां से उनकी ये यात्रा निकली है।

यात्रा को बीच में छोड़कर वायनाड निकले राहुल

वाराणसी में भारत जोड़ो न्याय यात्रा को बीच रास्ते में जोड़कर राहुल गांधी अचानक से वायनाड के लिए निकल गए। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जयराम रमेश ने सोशल मीडिया एक्स पर पोस्ट डालकर बताया कि राहुल गांधी की वायनाड में उपस्थिति की तत्काल आवश्यकता है। इस वजह से उन्हें वायनाड के लिए जाना पड़ रहा है। भारत जोड़ो न्याय यात्रा कल यानि 18 फरवरी को दोपहर तीन बजे से प्रयागराज से एक बार फिर यात्रा की शुरुआत की जाएगी। 

देश का छोटा व्यापारी डरा हुआ है: राहुल गांधी

वाराणसी के गोदौलिया चौराहे पर पहुंची भारत जोड़ो न्याय यात्रा के दौरान राहुल गांधी ने कहा, मैं यात्रा के दौरान लाखों लोगों से मिला। गरीब लोग भी मिले अमीर भी मिले। किसान, बेरोजगार और छोटे व्यापारी भी आए। सब ने अपना दर्द कहा। उन्होंने बताया कि कल क्या हो जाए इसका हमें पता नहीं। हम बहुत डरे हुए हैं। उन्होंने कहा कि यह देश में कितना बड़ा अन्याय है कि आमीर भी उतना ही टैक्स देगा जितना गरीब टैक्स देगा। यात्रा के दौरान आरएसएस और बीजेपी के लोग भी आए। वह बड़े प्यार से हमसे मिले। भारत मोहब्बत का देश है नफरतों का नहीं। उन्होंने भीड़ से सवाल किया कि अगर भाई-भाई में लड़ाई हो तो क्या होगा। भीड़ से उत्तर आया के परिवार कमजोर होगा। तब राहुल बोले ठीक इस तरह जब देश में भाई-भाई लड़ जाएगा तो देश कमजोर हो जाएगा। देश को जोड़ना ही देशभक्ति है। इस देश की शक्ति आपसी भाईचारा और प्रेम है। 

काशी विश्वनाथ मंदिर गए राहुल

भारत जोड़ो न्याय यात्रा के दूसरे दिन गोलेगड्डा क्षेत्र से प्रारंभ इस यात्रा में राहुल गांधी, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय राय और अन्य कांग्रेसी नेताओं के साथ खुली जीप में खड़े होकर काशी विश्वनाथ मंदिर गए और मंदिर के गोदौलिया क्षेत्र में भ्रमण किया। अपना दल (कमेरावादी) की नेता और कौशांबी के सिराथू से विधायक पल्लवी पटेल भी वाराणसी में इस यात्रा में शामिल हुईं। वह खुली जीप में राहुल गांधी के बाईं ओर खड़ी थीं। उत्तर प्रदेश में भारत जोड़ो न्याय यात्रा शुक्रवार को चंदौली जिले से शुरू हुई।

अमेठी में 27 जगहों पर होगा राहुल और प्रियंका का स्वागत

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और प्रियंका गांधी दो साल बाद एक बार फिर अमेठी आएंगे। दोनों नेताओं के स्वागत की जोरदार तैयारी की जा रही है। राहुल गांधी की अगुवाई में आ रही भारत जोड़ो न्याय यात्रा के स्वागत के लिए जिला कांग्रेस कमेटी की ओर से 27 स्थल निर्धारित किए गए हैं। 19 फरवरी को भारत जोड़ो न्याय यात्रा लेकर राहुल गांधी कोहरा से जिले की सीमा में प्रवेश करेंगे। यहां उनका और प्रियंका का स्वागत किया जाएगा। इसके बाद पुलिस लाइन के पास स्वागत का पॉइंट बनाया गया है। फ्लाईओवर पर चढ़ते समय और फ्लाईओवर से उतरते समय भी अलग-अलग कांग्रेस कार्यकर्ताओं की टीम राहुल गांधी का स्वागत करेगी। इसके बाद चौक मस्जिद अमेठी के सामने, सगरा तिराहे पर तथा देवीपाटन मंदिर के सामने यात्रा का स्वागत किया जाएगा। यहां यूथ कांग्रेस की अगुवाई में बाइक रैली भी निकाली जाएगी। रास्ते में बारामासी, टिकरिया तथा महिला थाना मोड़ के पास यात्रा का स्वागत होगा।

इसके बाद बाईपास से राहुल गांधी सुल्तानपुर-रायबरेली राजमार्ग पर आएंगे। जहां स्टेट बैंक गौरीगंज के पास कांग्रेस कार्यकर्ता उनका स्वागत करेंगे। मुसाफिरखाना मोड़ पर उनका स्वागत होगा तथा वे पदयात्रा करेंगे। गौरीगंज में सैंठा तिराहा, फल मंडी के पास, बस स्टैंड पर व अमेठी तिराहे पर राहुल गांधी का स्वागत होगा। इसके बाद वे केंद्रीय कांग्रेस कार्यालय पहुंचेंगे। जहां विश्राम करने के बाद उनकी यात्रा का जामो मोड़ पर स्वागत किया जाएगा। यहां से वे जनसभा स्थल पहुंचेंगे। जनसभा करने के बाद वह आगे बढ़ेंगे। रास्ते में गांधीनगर बाजार, जायस - जगदीशपुर मोड़, जायस बस स्टैंड, वहाबगंज, नवगजी मजार तथा बहादुरपुर तिराहे पर उनका स्वागत पार्टी कार्यकर्ताओं द्वारा किया जाएगा। तेंदुआ के पास राहुल गांधी रात्रि विश्राम करेंगे। सुबह फुरसतगंज और नहर कोठी में उनका स्वागत होगा।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें