Hindi Newsबिज़नेस न्यूज़will the price of lpg cylinder increase after the elections result coming on 4th june

LPG Price After Election: क्या चुनाव बाद बढ़ जाएंगे LPG सिलेंडर के दाम, 4 जून को आ रहा रिजल्ट

  • LPG Price After Elections: लोकसभा चुनाव से पहले LPG सिलेंडर 300 रुपये सस्ता हो गया। अब देखना यह है कि 4 जून को लोकसभा चुनाव के नतीजे घरेलू एलपीजी सिलेंडर के उपभोक्ताओं के लिए आफत बनते हैं या राहत लेकर आते हैं।

lpg file pic
Drigraj Madheshia नई दिल्ली, हिन्दुस्तान संवाददाताFri, 31 May 2024 01:27 PM
पर्सनल लोन

LPG Price After Elections 2024: एक जून 2024 को लोकसभा चुनाव के आखिरी चरण की वोटिंग है। हर महीने की पहली तारीख को एलपीजी सिलेंडर के दाम अपडेट होते हैं। इस बार 1 जून को ऐसा होगा या नहीं, यह तो वक्त बताएगा, लेकिन यह चर्चा आम है कि चुनाव बाद एलपीजी सिलेंडर के दाम बढ़ जाएंगे। आइए मोदी सरकार के कार्यकाल, चुनावों से पहले और बाद में घरेलू एलपीजी सिलेंडर के दाम में हुए बदलाव पर एक नजर डालें।

1 जून 2014 को दिल्ली में बिना सब्सिडी वाले घरेलू एलपीजी सिलेंडर की कीमत 905 रुपए प्रति सिलेंडर थी।  आज यानी 27 मई 2024 को दिल्ली में घरेलू सिलेंडर की कीमत 803 रुपये और कॉमर्शियल की 1745.50 रुपये है। बता दें सब्सिडी वाले एलपीजी सिलेंडर की कीमत उस समय 414 रुपए थी। 

पहले कार्यकाल में सस्ता तो दूसरे में इतना महंगा

प्रधानमंत्री पहला कार्यकाल मई 2014 से 2019 और दूसरा 2019 से अब तक जारी है। एक जून 2023 को घरेलू एलपीजी सिलेंडर की कीमत दिल्ली में 1103 रुपये थी । इंडियन ऑयल के आंकड़ों के मुताबिक यही सिलेंडर बिना सब्सिडी के 1 मई 2014 को दिल्ली में 928.50 रुपये का था। यानी कुल 10 साल में घरेलू एलपीजी सिलेंड 125 रुपये सस्ता हुआ है। 

बिना सब्सिडी वाले घरेलू सिलेंडर के दाम मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में 216 रुपये कम हुए थे। एक मई 2014 के 928.50 रुपये की तुलना में 1 मई 2019 को दिल्ली में घरेलू सिलेंडर सस्ता होकर 712.50 रुपये ही रह गया था। वहीं, दूसरे कार्यकाल में यही सिलेंडर 712.50 रुपये उछल कर 1103 रुपये पर पहुंच गया और अब 803.50 रुपये है यानी केवल 91 रुपये ही दाम बढ़े।

मई 2014 में मोदी सरकार बनने के बाद जून 2014 में सिलेंडर 980.50 रुपये का हो गया। 2014 के अक्टूबर में 883.50 रुपये का हो गया। साल 2015 की फरवरी में घरेलू एलपीजी सिलेंडर के दाम घटकर 605 रुपये रह गए और अगस्त 2015 में यह 585 रुपये में मिलने लगा।

अक्टूबर में घरेलू सिलेंडर साल के सबसे निचले स्तर 517.50 रुपये पर आ गया। उतार-चढ़ाव के बीच अप्रैल 2016 तक सिलेंडर 509.50 रुपये पर आ गया। 2018 में लोगों को एक सिलेंडर के लिए 942.50 रुपये तक चुकाने पड़े।

चुनावी साल में मिली राहत

चुनावी साल 2019 एलपीजी उपभोक्ताओं के लिए कुछ राहत लेकर आया। फरवरी में सिलेंडर की कीमत घटकर 659 रुपये रह गई। अगस्त तक 574.50 रुपये पर आ गया, लेकिन 2020 की शुरुआत में ही यह 714 रुपये पर पहुंच गया। फरवरी में यह 858.50 रुपये तक पहुंच गया।

मई में घरेलू एलपीजी सिलेंडर के दाम घटकर 581.50 रुपये पर आ गए और नवंबर 2020 तक 594 रुपये पर ही स्थिर रहे। दिसंबर 2021 में सिलेंडर के रेट 899.50 पर पहुंच गए और 21 मार्च 2022 तक रेट में कोई बदलाव नहीं हुआ।

इस साल 300 रुपये घटे एलपीजी सिलेंडर के दाम

दिल्ली में 22 मार्च 2022 को घरेलू एलपीजी सिलेंडर के रेट उछल कर 949.50 रुपये और मई में 1000 को भी पार कर गए। इसके बाद 6 जुलाई 2022 को सिलेंडर 1053 रुपये पर पहुंच गया। तब से फरवरी 2023 तक इसी रेट पर था। मार्च 2023 को फिर सिलेंडर के दाम बढ़े और कीमत 1103 रुपये पर पहुंच गई। इसके बाद 30 अगस्त 2023 को 200 रुपये की राहत मिली और दाम हो गया 903 रुपये। नौ मार्च 2024 को एक बार फिर सिलेंडर 100 रुपये सस्ता हो गया। ऐसे में अब देखना यह है कि 4 जून को लोकसभा चुनाव के नतीजे घरेलू एलपीजी सिलेंडर के उपभोक्ताओं के लिए आफत बनते हैं या राहत लेकर आते हैं।

 जानें Hindi News , Business News की लेटेस्ट खबरें, Share Market के लेटेस्ट अपडेट्स Investment Tips के बारे में सबकुछ।

ऐप पर पढ़ें