DA Image
3 मार्च, 2021|10:27|IST

अगली स्टोरी

Z कैटेगरी की सुरक्षा, भगवा रंग में रंगा ऑफिस; दे रहे हैं शुभेंदु अधिकारी के बीजेपी में जाने के संकेत

rebel tmc mla suvendu adhikari gets z category security

पश्चिम बंगाल में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं। उससे पहले सियासी सरगर्मी भी जोर पकड़ने लगी है। तृणमूल कांग्रेस (TMC) से बागी तेवर अपना चुके विधायक शुभेंदु अधिकारी को जेड कैटेगरी की सुरक्षा दी गई है। अंग्रेजी न्यूज चैनल इंडिया टुडे के मुताबिक, आईबी की रिपोर्ट और थ्रेट परसेप्शन के आधार पर गृह मंत्रालय ने शुभेंदु को यह सुरक्षा दी है। चर्चा यह भी है कि मंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद अब वह विधायक पद से भी इस्तीफा देने वाले हैं।

खबर यह भी है कि शुभेंदु के इलाका पूर्व मेदिनीपुर जिले के कांथी में उनके नाम पर एक ऑफिस खुला है, जो पूरी तरह से भगवा रंग में रंगा है। इस ऑफिस को शुभेंदु बाबू सहायता केंद्र नाम दियागया है। शुभेंदु के करीबी कनिष्क पांडा ने भगवा ऑफिस पर पूछे गए सवाल के जवाब में कहा कि यह रंगा त्याग और सेवा का प्रतीक है। ऐसे में सवाल उठ रहा है कि क्या अब वह बीजेपी में जाने का मन पक्का कर चुके हैं।

शुभेंदु अधिकारी पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी सरकार में परिवहन मंत्री थे और इसी साल 27 नवंबर को उन्होंने इस पद से इस्तीफा दे दिया था। इस्तीफा देते हुए उन्होंने कहा था कि मेरी पहचान यह है कि मैं पश्चिम बंगाल और भारत का बेटा हूं। मैं हमेशा पश्चिम बंगाल के लोगों के लिए लडूंगा। इतना ही नहीं, उन्होंने पार्टी नेतृत्व को एक संदेश भी भेजा, जिसमें उन्होंने कहा कि अब टीएमसी में रहकर काम करना संभव नहीं है। शुभेंदु अधिकारी को जनाधार वाले एक प्रभावशाली नेता माना जता है। उनका इस्तीफा ममता बनर्जी के लिए एक बड़ा झटका माना जा रहा है।

शुभेंदु अधिकारी के बाद अब राजीव बनर्जी का नंबर?
ममता बनर्जी मंत्रिमंडल में शुभेंदु अधिकारी के बाद राजीव बनर्जी ने पश्चिम बंगाल में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस के लिए खतरे की घंटे बजाते हुए आरोप लगाया कि नेतृत्व से करीबी संबंध रखने वालों को महत्व दिया जाता है जबकि मेहनती कार्यकर्ताओं को दरकिनार किया जा रहा है। राजीव बनर्जी ने दावा किया कि राजनीति में आजकल कुछ ऐसे लोग हैं जो सत्ता का आनंद लेने के बारे में सोचते हैं, और लोगों की सेवा करना उनका लक्ष्य नहीं है। राज्य के वन मंत्री ने शनिवार को यहां एक कार्यक्रम में कहा, एक राजनीतिक मंच का उपयोग कई लोगों की मदद के लिए किया जा सकता है, लेकिन कुछ लोग अपने व्यक्तिगत लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए इसका उपयोग कर रहे हैं।

कैलाश विजयवर्गीय की सुरक्षा बढ़ाई, बुलेट प्रूफ कार में चलेंगे
भाजपा नेता कैलाश विजयवर्गीय की वीआईपी सुरक्षा में वृद्धि की गई और पश्चिम बंगाल दौरे के दौरान उन्हें बुलेट प्रूफ कार मुहैया कराई गई है। आधिकारिक सूत्रों ने सोमवार को बताया कि केंद्रीय गृह मंत्रालय ने केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) को 64 वर्षीय भाजपा महासचिव के काफिले में बख्तरबंद वाहन को शामिल करने और यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है कि वह एसयूवी में ही यात्रा करें।

उन्होंने बताया,‘विजयवर्गीय की सुरक्षा में वृद्धि की गई और उनके काफिले में बुलेट प्रूफ वाहन शामिल किया गया है। यह बदलाव भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा के काफिले पर हुए हमले के दौरान उनके वाहन को निशाना बनाने के बाद सुरक्षा के मद्देनजर किया गया है।’ उल्लेखनीय कि पिछले साल फरवरी से ही सीआईएसएफ जेड श्रेणी की वीआईपी सुरक्षा विजयवर्गीय को मुहैया करा रही है। इसके तहत 16 सीआईएसएफ के सशस्त्र कमांडो और पायलट व एस्कॉर्ट वाहन सुरक्षा प्राप्त व्यक्ति की सुरक्षा करते हैं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Rebel TMC MLA Suvendu Adhikari Gets Z Category Security