ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News पश्चिम बंगालचार दिन की चांदनी फिर अंधेरी रात, इंडिया अलायंस में ममता-अधीर के बीच फिर खिंची तलवार; CM ने तेज किए हमले

चार दिन की चांदनी फिर अंधेरी रात, इंडिया अलायंस में ममता-अधीर के बीच फिर खिंची तलवार; CM ने तेज किए हमले

Lok Sabha Elections: कांग्रेस नेता राहुल गांधी अपनी भारत जोड़ो न्याय यात्रा के दौरान पश्चिम बंगाल के जिन शहरों से होकर गुजरे, उन्हीं शहरों चोपड़ा और इस्लामपुर में कुछ दिनों बाद ममता ने पदयात्रा की हैं

चार दिन की चांदनी फिर अंधेरी रात, इंडिया अलायंस में ममता-अधीर के बीच फिर खिंची तलवार; CM ने तेज किए हमले
Pramod Kumarलाइव हिन्दुस्तान,कोलकाताWed, 31 Jan 2024 07:12 AM
ऐप पर पढ़ें

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने इंडिया अलायंस में साथी दलों के बीच चौड़ी होती खाई को फिर उजागर किया है। मंगलवार को राज्य के उत्तरी हिस्से में पदयात्रा करते हुए ममता ने लोगों से तृणमूल कांग्रेस के बैनर तले एकजुट होने का आह्वान किया है। उन्होंने आगामी लोकसभा चुनावों में कांग्रेस-लेफ्ट और बीजेपी को हराने की अपील की है।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी अपनी भारत जोड़ो न्याय यात्रा के दौरान पश्चिम बंगाल के जिन शहरों से होकर गुजरे, उन्हीं शहरों चोपड़ा और इस्लामपुर में कुछ दिनों बाद ममता बनर्जी ने पदयात्रा कीं। इस दौरान उन्होंने कहा: “वह तृणमूल कांग्रेस ही है, जो राज्य के लोगों के अधिकारों के लिए लड़ रही है। हमें बंगाल में कांग्रेस-सीपीआई (एम)-बीजेपी गठजोड़ को हराने के लिए एकजुट होना चाहिए।”

ममता की यह टिप्पणी उस दिन आई जब पश्चिम बंगाल प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रमुख अधीर रंजन चौधरी ने तृणमूल पर बंगाल में पदयात्रा के रास्ते में "बाधाएं पैदा करने" का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि वह राज्य में भ्रष्टाचार के मुद्दों को उठाते रहेंगे। चौधरी ने मुर्शिदाबाद में मीडियाकर्मियों से कहा, "अगर पश्चिम बंगाल में चोरी हो रही है, तो क्या मैं कहूंगा कि ऐसा नहीं हो रहा है?...क्या हम भ्रष्टाचार में शामिल लोगों को भ्रष्ट नहीं कह सकते।" 

चौधरी ने कहा, “अनीश खान (हावड़ा में एक युवक) की हत्या के लिए किसी को अब तक गिरफ्तार नहीं किया जा सका है। लगता है इस मामले में भी कोर्ट का दरवाजा खटखटाना पड़ेगा। स्कूली शिक्षकों को नौकरी नहीं मिली तो लोग कोर्ट चले गये।राशन नहीं मिलने (राशन घोटाला) के मामले में भी लोग कोर्टगए।  अब अदालत सीबीआई और ईडी से जांच के आदेश दे रही है।' बता दें कि तृणमूल कांग्रेस लंबे समय से अधीर रंजन चौधरी पर दोनों पार्टियों के बीच संबंधों में तनाव पैदा करने का आरोप लगाती रही है। 

ममता बनर्जी इस समय उत्तरी पश्चिम बंगाल में प्रशासनिक दौरे पर हैं। उन्होंने पहले उत्तर दिनाजपुर के चोपड़ा शहर में 'जोनो संजोग यात्रा' निकाली। इसके बाद उन्होंने पास के इस्लामपुर में भी एक और पदयात्रा की। चोपड़ा शहर से गुजरते हुए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सड़क के किनारे खड़े लोगों का हाथ जोड़कर अभिवादन किया। यात्रा के दौरान पार्टी नेताओं, महिलाओं और बच्चों सहित स्थानीय लोगों ने उनका स्वागत किया।
     
जब यात्रा विभिन्न इलाकों से गुजर रही थी, तब कई लोगों को 'दीदी...दीदी' के नारे लगाते हुए देखा गया। कई लोगों ने फूल बरसाए और कुछ ने शंख बजाया। ममता बनर्जी ने स्थानीय लोगों से भी बातचीत की। तृणमूल समर्थक अपने हाथों में पार्टी के झंडे लिए हुए थे। ममता बनर्जी का ये मार्च ऐसे समय में हुआ है जब तृणमूल कांग्रेस उत्तरी पश्चिम बंगाल में अपनी खोई हुई जमीन वापस पाने के लिए हरसंभव प्रयास कर रही है। पिछले लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी ने इस क्षेत्र की आठ लोकसभा सीटों में से सात पर जीत हासिल की थी। 
     
वह कर्णजोरा क्षेत्र से रायगंज तक एक और यात्रा करेंगी, जहां उनका एक प्रशासनिक समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करने का कार्यक्रम है। पत्रकारों से बात करते हुए बनर्जी ने कहा कि उनकी यात्रा बहुत अच्छी 
रही। राहुल गांधी की 'भारत जोड़ो न्याय यात्रा'पर सवालों के जवाब में मुख्यमंत्री ने कुछ नहीं कहा। तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के राष्ट्रीय महासचिव अभिषेक बनर्जी ने पिछले साल अप्रैल में 'जोनो संजोग यात्रा' शुरू की थी जिसके बाद अगले दो महीनों में उन्होंने राज्य भर में यात्रा की थी।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें