ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ पश्चिम बंगालनारदा स्कैम: फिरहाद हाकिम समेत ममता सरकार के दो मंत्रियों के घर छापेमारी, सीबीआई दफ्तर लाए गए 4 नेता

नारदा स्कैम: फिरहाद हाकिम समेत ममता सरकार के दो मंत्रियों के घर छापेमारी, सीबीआई दफ्तर लाए गए 4 नेता

पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार के दो मंत्रियों समेत 4 नेताओं के घर सीबीआई ने नारदा स्कैम के मामले में छापेमारी की है और उन्हें अपने दफ्तर लेकर आई है। इन नेताओं में सीनियर मंत्री फिरहाद हाकिम के...

नारदा स्कैम: फिरहाद हाकिम समेत ममता सरकार के दो मंत्रियों के घर छापेमारी, सीबीआई दफ्तर लाए गए 4 नेता
Surya Prakashहिन्दुस्तान ,कोलकाताMon, 17 May 2021 10:22 AM
ऐप पर पढ़ें

पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार के दो मंत्रियों समेत 4 नेताओं के घर सीबीआई ने नारदा स्कैम के मामले में छापेमारी की है और उन्हें अपने दफ्तर लेकर आई है। इन नेताओं में सीनियर मंत्री फिरहाद हाकिम के अलावा सुब्रत मुखर्जी भी शामिल हैं। इसके अलावा विधायक मदन मित्रा को भी सीबीआई पूछताछ के लिए अपने दफ्तर लाई है। पूर्व मेयर सोवन चटर्जी भी इन लोगों में शामिल हैं। मंत्री फिरहाद हाकिम ने दावा किया है कि सीबीआई ने उन्हें नारदा घोटाले के केस में हिरासत में ले लिया है।

हालांकि एजेंसी ने उनके दावे को खारिज करते हुए कहा कि उन्हें हिरासत में नहीं लिया गया है बल्कि पूछताछ की गई है। इससे पहले राज्य के गवर्नर जगदीप धनखड़ ने एजेंसी को फिरहाद हाकिम समेत सुब्रत मुखर्जी, मदन मित्रा और सोवन चटर्जी के खिलाफ केस दर्ज किए जाने को मंजूरी दी थी। फिरहाद हाकिम ने अपना बचाव करते हुए कहा था कि भरोसा है कि उन्हें क्लीन चिट मिलेगी। 

फिरहाद हाकिम ने कहा था, 'मैं न्यायापालिका पर विश्वास करता हूं। मुझे भरोसा है कि क्लीन चिट मिलेगी। यह अच्छी बात है कि यह मामला अदालत में जाए। मैं वहां अपना पक्ष रखूंगा और अदालत की ओर से न्याय किया जाएगा।' नारदा घोटाले का मामला 2014 में सामने आया था, जब पत्रकार मैथ्यू सैमुएल ने कोलकाता में एक स्टिंग ऑपरेशन किया था। उस स्टिंग ऑपरेशन के बाद ही नारदा स्कैम उजागर हुआ था। इस वीडियो में टीएमसी के कई मंत्री रकम लेते हुए दिखे थे। 

इसके अलावा एक पुलिस अफसर में घूस की रकम लेते हुए दिखा था। सीबीआई के सूत्रों के मुताबिक गवर्नर जगदीप धनखड़ से ममता सरकार के 4 मंत्रियों के खिलाफ एंटी करप्शन ऐक्ट की धारा सेक्शन के तहत चार्जशीट दायर करने की मांग की गई थी। अंत में जगदीप धनखड़ की ओर से इसकी अनुमति दे दी गई है।

epaper