By  Arti Tripathi
PUBLISHED September 22, 2022

LIVE HINDUSTAN
Health

डायबटीज कंट्रोल करती है ये 7 तरीके की आटे की रोटियां

शरीर में इंसुलिन की मात्रा कम होने या शरीर में शुगर लेवल ज्यादा होने से व्यक्ति को डायबिटीज की समस्या हो जाती है।

डायबिटीज

आइए जानते हैं शुगर के मरीजों को डाइट में किन आटों की रोटियां शामिल करनी चाहिए, जिससे डायबिटीज कंट्रोल किया जा सके।

डायबिटीज कैसे कंट्रोल करें

pexels: Cottonbro

डायबिटीज कंट्रोल करने के लिए बाजरे की रोटी रामबाण साबित हो सकती है। बाजरे में मौजूद मैग्नीशियम शुगर कंट्रोल करने में मदद करता है।

बाजरे की रोटी

Instagram-tarladalal

रागी के आटे में पॅालीफेनॅाल्स, फाइबर और मिनिरल्स प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। रागी के आटे की रोटियां डायबिटीज के रोगियों के लिए फायदेमंद होती है। 

रागी के आटे की रोटी

Photo Credit-Akanksha

ज्वार के आटे में मौजूद मैग्नीशियम, प्रोटीन और फाइबर शुगर लेवल कंट्रोल करता है। मधुमेह के रोगियों के लिए ज्वार का आटा फायदेमंद माना जाता है।

ज्वार के आटे की रोटी

Instagram-dsukyfoodie

डायबिटीज के रोगियों के लिए बेसन की रोटियां बहुत फायदेमंद होती है। रोजाना बेसन की रोटियां खाने से शुगर कंट्रोल में रहता है।

बेसन की रोटी

Photo Credit- Madiha

डायबिटीज के मरीज अपनी डाइट में जौ की रोटी शामिल कर सकते हैं। जौ के आटे का ग्लाइसेमिक इंडेक्स कम होने के कारण शुगर लेवल कम रहता है।

जौ के आटे की रोटी

Instagram-desifirangtadka

मधुमेह के रोगियों के लिए ओट्स के आटे की रोटियां फायदेमंद होती है। ओट्स में मौजूद बीटा ग्लूकॅान डायबिटीज कंट्रोल करने मदद करता है। 

ओट्स की रोटियां

Instagram-deepfriedbbread

डायबिटीज के मरीजों के लिए सोया से बनीं रोटियां बहुत फायदेमंद मानी जाती हैं। सोया रोटी खाने से मधुमेह के अलावा कोलेस्ट्रॅाल लेवल भी कंट्रोल में रहता है।

सोया से बनीं रोटियां

Instagram-cookna.kaha

डायबिटीज के मरीजों को गेहूं के आटे से बनीं रोटियों को खाने से परहेज करना चाहिए। इसका ग्लाइसेमिक इंडेक्स 100 के करीब होता है।

ना खाएं गेहूं की रोटियां

Instagram-_anandakitchen_

ग्लाइसेमिक इंडेक्स ये बताता है कि खाद्य पदार्थ में मौजूद कार्बोहाइड्रेट शरीर में कितना जल्दी शुगर लेवल बढ़ाएगा।

क्या होता है ग्लाइसेमिक इंडेक्स

यह खबर सामान्य जानकारियों पर आधारित है। किसी भी तरह की विशेष जानकारी के लिए विशेषज्ञ से उचित सलाह लें।

नोट

livehindustan.com/web-stories/Health/
इस तरह की और वेब स्टोरीज के लिए क्लिक करें
livehindustan.com/web-stories/