By Navaneet Rathaur
PUBLISHED August 5, 2022

LIVE HINDUSTAN
Faith

Raksha Bandhan 2022: जानिए राखी बांधने का शुभ मुहूर्त

हिंदू पंचांग के अनुसार, हर साल सावन माह के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि पर रक्षाबंधन का त्योहार मनाया जाता है।

हिंदू पंचांग

रक्षाबंधन

रक्षाबंधन का पर्व भाई-बहन के आपस में स्नेह और प्रेम का प्रतीक है। इस दिन बहनें अपने भाईयों की कलाई पर राखी बांधकर उनकी लंबी आयु और सुख-समृद्धि की कामना करती हैं।

रक्षाबंधन को लेकर असमंजस

राखी के त्योहार की तिथि को लेकर इस साल लोगों के बीच में बहुत ही असमंजस की स्थिति है। कुछ लोग इस पर्व को 11 अगस्त को, तो वहीं कुछ लोग 12 अगस्त को मनाने की सलाह दे रहे हैं।

पूर्णिमा तिथि

सावन की पूर्णिमा तिथि 11 अगस्त को सुबह 10:38 पर शुरू होगी और 12 अगस्त को सुबह 7 बजे समाप्त हो जाएगी। इस हिसाब से उदया तिथि 12 अगस्त को है।

ज्योतिष शास्त्र

ज्योतिष शास्त्र में बताए गए नियमों के अनुसार, आप अपनी सुविधा को ध्यान में रखकर 11 अगस्त और 12 अगस्त दोनों दिन इस त्योहार को मना सकते हैं।

Instagram: thesmithjewels

भद्रा का साया

रक्षाबंधन के त्योहार पर भद्रा का साया होने के कारण शुभ मुहूर्त काफी कम हैं। 11 अगस्त को दोपहर और शाम दोनो समय में भद्रा है।

11 अगस्त को दोपहर 12:06 से 12:57 तक अभिजीत मुहूर्त है। इस दौरान राखी बांधना शुभ होता है।

अभिजीत मुहूर्त

अमृत काल

11 अगस्त 2022 को शाम 6:55 से रात 8:20 तक अमृत काल है। अमृत काल में भी राखी बांधा जा सकता है।

ब्रह्म मुहूर्त

12 अगस्त 2022 को सुबह 4:29 से 5:17 तक ब्रह्म मुहूर्त है। ब्रह्म मुहूर्त के बाद राखी बांधने के लिए कोई भी शुभ मुहूर्त नहीं है।

काले कपड़े ना पहनें

रक्षाबंधन के दिन  काले कपड़े नहीं पहनने चाहिए। काले कपड़ों से नकारात्मक ऊर्जा आकर्षित होती है।

LIVEHINDUSTAN.COM/WEB-STORIES/faith/
इस तरह की और वेब स्टोरीज के लिए क्लिक करें
livehindustan.com/web-stories/