By Pratima Jaiswal
PUBLISHED September 16, 2020

LIVE HINDUSTAN
Lifestyle

ब्रेकफास्ट में पोहा
खाने के फायदे

सूखा पोहा चावल को सुखाकर बनाया जाता है। इसमें कार्बोहाइड्रेट, आयरन, प्रोटीन की मात्रा होती है।

photo Credit : freepik

तरह-तरह की सब्जियां डालकर पोहे की पौष्टिकता बढ़ा सकते हैं। गाजर, बीन्स, गोभी, मटर, मूंगफली डालने से  पोहा और भी हेल्दी बन जाता है।

Photo Credit : freepik.com

शरीर में अगर आयरन की कमी है, तो पोहा खाने से इसकी कमी दूर हो जाती है। बच्चों और महिलाओं को नाश्ते में पोहा जरूर खाना चाहिए।

Photo Credit : freepik.com

शरीर में हीमोग्लोगबिन की मात्रा कम होने पर कई मौसमी सब्जियां डालकर पोहा खाने से खून की मात्रा बढ़ती है।

video Credit : pixabay.com

 बढ़ते वजन से परेशान हैं, तो नाश्ते में पोहा खाना सबसे बेस्ट ऑप्शन है। इससे वेट कंट्रोल में रहने के साथ शरीर में कमजोरी भी नहीं आती।

photo Credit : freepik.com

सुबह उठकर अगर आपको आलस महसूस होता होता या पूरे दिन थकावट रहती है, तो नाश्ते में पोहा खाने से एनर्जी बनी रहती है।

Photo Credit : freepik.com

सुबह अगर पेट साफ नहीं होता, तो नाश्ते में पोहा खाने से कब्ज की समस्या नहीं होती क्योंकि यह आसानी से पच जाता है।

Photo Credit : freepik.com

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए सब्जियों से भरपूर पोहा खाना चाहिए। खासकर, बच्चों को टिफिन में पोहा देना काफी फायदेमंद होता है।

Photo Credit : freepik.com

बार-बार भूख लगने की समस्या को कंट्रोल करने के लिए पोहा सबसे सही ऑप्शन है। इससे पेट लम्बे समय तक भरा-भरा लगता है, जिससे स्नैक्स खाने का मन नहीं करता।

Photo Credit : freepik.com

डायबिटीज के मरीजों को पोहा खाने से भूख कम लगती है और उनका ब्लड प्रेशर भी नॉर्मल रहता है।

Photo Credit : freepik.com

वजन कंट्रोल करने के साथ पोहा मसल्स बनाने में भी मदद करता है। इसके लिए पोहे में सब्जियों के साथ अंडे या उबला चिकन डालकर इसकी पौष्टिकता बढ़ा सकते हैं।

video Credit : pixabay
इस तरह की अधिक
कहानियों के लिए देखें
livehindustan.com/Lifestyle
Click Here