फोटो गैलरी

Hindi News मौसमWeather Report: चेन्नई में आज भी स्कूल बंद, बारिश से राहत नहीं; जानें लखनऊ-भोपाल और बाकी शहरों का हाल

Weather Report: चेन्नई में आज भी स्कूल बंद, बारिश से राहत नहीं; जानें लखनऊ-भोपाल और बाकी शहरों का हाल

Weather Report Today: अगर उत्तर प्रदेश की बात करें तो शुक्रवार को राज्य के ज्यादातर हिस्सों में मौसम सामान्य रह सकता है। चक्रवात से हुए बदलाव के बाद बारिश का दौर फिलहाल थमता नजर आ रहा है।

Weather Report: चेन्नई में आज भी स्कूल बंद, बारिश से राहत नहीं; जानें लखनऊ-भोपाल और बाकी शहरों का हाल
Niteesh Kumarलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीFri, 08 Dec 2023 08:09 AM
ऐप पर पढ़ें

Weather Report Today: चक्रवाती तूफान मिचौंग ने तमिलनाडु में भारी तबाही मचाई। राज्य में बारिश से जुड़ी घटनाओं में 20 लोगों की मौत हो गई। हजारों लोगों को विस्थापित होना पड़ा। कई इलाकों में अभी भी पानी भरा हुआ है जिसे हटाने का काम जारी है। चेन्नई में शुक्रवार को भी स्कूल और कॉलेज बंद रहेंगे। भारत मौसम विभाग (IMD) का कहना है कि दक्षिणी हिस्से में आज हल्की से भारी बरसात हो सकती है। आईएमडी की ओर से कहा गया, 'अगले 5 दिनों के दौरान केरल और माहे में, अगले 3 दिनों के दौरान तमिलनाडु, पुडुचेरी, कराईकल और लक्षद्वीप में कुछ जगहों पर हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है।'

मिचौंग के कारण मूसलाधार बारिश होने के कुछ दिनों बाद चेन्नई के कुछ हिस्सों और आसपास के जिलों के उपनगरों में पानी भर गया, जिससे महानगर और इसके आसपास के इलाकों में जनजीवन अस्त-व्यस्त है। चक्रवात मंगलवार को आंध्र प्रदेश में तट को पार कर गया और चेन्नई, तिरुवल्लूर, कांचीपुरम और चेंगलपेट को इसका खामियाजा भुगतना पड़ा। चक्रवात के प्रभाव से 4 दिसंबर को उक्त चार जिलों में भारी बारिश हुई। सरकार ने कहा कि राहत गतिविधियां तेज कर दी गई हैं और चेन्नई में विभिन्न स्थानों पर जमा पानी को बाहर निकालने के प्रयास जारी हैं। वेलाचेरी और पश्चिम तांबरम के कुछ हिस्सों में गुरुवार को भी जलभराव हो गया, यहां पल्लीकरनई क्षेत्र में खाद्यान्न के पैकेट हवाई जहाज से गिराए गए।

राजधानी लखनऊ समेत पूर्वी यूपी में गिरेगा पारा
अगर उत्तर प्रदेश की बात करें तो शुक्रवार को राज्य के ज्यादातर हिस्सों में मौसम सामान्य रह सकता है। चक्रवात से हुए बदलाव के बाद बारिश का दौर फिलहाल थमता नजर आ रहा है। आज दिन में हल्की धूप निकलने की संभावना है। साथ ही राजधानी लखनऊ समेत पूर्वी उत्तर प्रदेश में रातें अब सर्द होने लगी हैं। सुबह के वक्त हल्का कोहरा रह सकता है और रात में तामपान में गिरावट दर्ज होगी। मौसम विभाग के मुताबिक, पारे को लेकर अभी अलर्ट जारी नहीं किया गया है। हालांकि, ठंड अब आए दिन के साथ बढ़ने वाली है। लखनऊ समेत पूर्वी यूपी में रात का तापमान से 4-5 डिग्री सेल्सियस तक गिर सकता है। पश्चिम यूपी में 2-3 डिग्री कमी आने की संभावना है। यह जरूर है कि धूप खिली रहने से दिन में राहत मिलेगी। 

MP में पूर्वोत्तर के अनेक हिस्सों में बारिश
मध्य प्रदेश में मौसम के बदले मिजाज के बीच पिछले 24 घंटों के दौरान पूर्वोत्तर के अनेक हिस्सों में हल्की से मध्यम वर्षा दर्ज की गई। कुछ क्षेत्रों में हल्की बारिश हुई जिससे मौसम में ठंडक बढ़ गई है। मौसम विज्ञान केंद्र भोपाल के वैज्ञानिकों के अनुसार पिछले चौबीस घंटों के दौरान प्रदेश के रीवा, जबलपुर और शहडोल संभागों के जिलों के अनेक स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश दर्ज की गई। राजधानी भोपाल और उसके आसपास के क्षेत्रों में गुरुवार सुबह धूप खिलने के बाद दिनभर आसमान में बादल छाए रहे, जिसके चलते मौसम में ठंडक बनी रही। यहां अगले 24 घंटों के दौरान भी बादल छाए रहने की संभावना व्यक्त की गई है। कुछ हिस्सों में हल्की बारिश भी हो सकती है।

ओडिशा में कई जगहों पर बारिश, तापमान में गिरावट
ओडिशा में बेमौसम बरसात के कारण राज्य में तापमान में गिरावट दर्ज की गई। सुंदरगढ़ जिला प्रशासन गुरुवार को खराब मौसम के कारण स्कूलों और आंगनवाड़ी केंद्रों में छुट्टी घोषित कर दी। आईएमडी के मौसम वैज्ञानिक उमाशंकर दास ने कहा कि तापमान में बदलाव आया है और राज्य के कुछ स्थानों पर तापमान में औसतन 5 डिग्री सेल्सियस की गिरावट देखी गई। रिपोर्ट के मुताबिक, ओडिशा के कई इलाकों में शुक्रवार को भी मौसम खराब रह सकता है और हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है। 

बंगाल में बादल छाए रहने और बारिश का अनुमान
बंगाल के कोलकाता और दक्षिणी जिलों में गुरुवार की सुबह ठंडी हवा के साथ-साथ रुक-रुककर हो रही बारिश के कारण जनजीवन प्रभावित हुआ। मौसम विभाग ने शुक्रवार को सुबह तक पूर्वी भारत में सामान्य रूप से बादल छाए रहने और हल्की से मध्यम बारिश होने का अनुमान जताया है। मौसम विभाग का कहना है कि चक्रवाती तूफान मिजौंग कमजोर होकर छत्तीसगढ़ के ऊपर निम्न दबाव वाले क्षेत्र में तब्दील हो गया है, जिसके कारण ही पूर्वी भारत के मौसम में ऐसे बदलाव आए हैं।
(एजेंसी इनपुट के साथ)

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें