फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News मौसमभीषण गर्मी के तेवर और तीखे, पारा 45 डिग्री के पार; उत्तराखंड में अगले तीन दिन कैसे रहेगा मौसम?

भीषण गर्मी के तेवर और तीखे, पारा 45 डिग्री के पार; उत्तराखंड में अगले तीन दिन कैसे रहेगा मौसम?

विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह के मुताबिक,बीते वर्षों के मुकाबले इस बार उत्तराखंड में तापमान अधिक रहा है। देहरादून में पिछले तीस दिन में से 22 दिन तापमान 40 डिग्री से ऊपर ही रहा।

भीषण गर्मी के तेवर और तीखे, पारा 45 डिग्री के पार; उत्तराखंड में अगले तीन दिन कैसे रहेगा मौसम?
Himanshu Kumar Lallदेहरादून,  संतोष चमोलीTue, 18 Jun 2024 10:41 AM
ऐप पर पढ़ें

इस समय पूरा उत्तराखंड भीषण गर्मी की चपेट में है। सोमवार को उत्तराखंड के 17 शहरों में तापमान 40 डिग्री सेल्सियस से ज्यादा दर्ज किया गया। इनमें मैदानी क्षेत्रों के साथ श्रीनगर, देवप्रयाग और रुद्रप्रयाग भी शामिल हैं।

उधर,हरिद्वार में आपदा कंट्रोल रूम के मुताबिक, इस वर्ष पहली बार नगर में सोमवार को अधिकतम तापमान 46 डिग्री सेल्सियस पर पहुंचा। इस बीच, देहरादून स्थित मौसम विज्ञान केंद्र ने मंगलवार को भी पांच जिलों में भीषण लू का रेड अलर्ट जारी किया है।

विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह के मुताबिक,बीते वर्षों के मुकाबले इस बार उत्तराखंड में तापमान अधिक रहा है। देहरादून में पिछले तीस दिन में से 22 दिन तापमान 40 डिग्री से ऊपर ही रहा। गत 17 मई के बाद दस दिन और जून में अब तक बारह दिन, पारा 40 डिग्री सेल्सियस से ऊपर जा चुका है।

उत्तराखंड में दून के अलावा हरिद्वार, रुड़की,ऋषिकेश,विकासनगर,श्रीनगर, रुद्रप्रयाग, टनकपुर, खटीमा, रुद्रपुर, कोटद्वार, देवप्रयाग, पंतनगर, हल्द्वानी, काशीपुर, जसपुर व रामनगर में सोमवार को पारा चालीस डिग्री सेल्सियस से ज्यादा दर्ज किया गया।

मौसम विभाग के पास दून के 1971 से लेकर अब तक के उपलब्ध आंकड़ों के मुताबिक, इससे पहले सिर्फ 1995 में जून में 12 दिन तापमान 40 डिग्री से अधिक रहा था। आमतौर पर यहां मई-जून में पांच से सात दिन तापमान 40 से अधिक रहता था।

देहरादून में सर्वाधिक गर्म दिन का रिकॉर्ड चार जून 1902 को दर्ज हुआ था। तब तापमान 43.9 डिग्री रहा था। इसके बाद 16 जून 1995 को 43.7 डिग्री दर्ज किया गया। हालांकि, इस बार अभी तापमान इस स्तर पर नहीं पहुंचा है।

विज्ञान केंद्र के मुताबिक, 19 जून से प्रदेश के विभिन्न इलाकों में बारिश का दौर शुरू होगा। इससे पर्वतीय क्षेत्रों में कुछ राहत मिलेगी पर मैदान में लू की स्थिति बनी रहेगी। डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया सोमवार को हरिद्वार में अधिकतम तापमान, आपदा कंट्रोल रूम के मुताबिक, इस वर्ष धर्मनगरी में पहली बार पारा इतनी ऊंचाई तक गया

स्थान अधिकतम (डिग्री सेल्सियस)
रुड़की 44.0
ऋषिकेश 44.0
देहरादून 43.1
हल्द्वानी 42.0
यूएसनगर 41.0
नई टिहरी 31.4
नैनीताल 31.0
मसूरी 30.7

यहां भीषण लू का अलर्ट यहां बूंदाबांदी के आसार
देहरादून स्थित मौसम विज्ञान केंद्र ने मंगलवार के लिए देहरादून समेत पौड़ी, हरिद्वार, नैनीताल और ऊधमसिंहनगर में भीषण लू चलने का रेड अलर्ट जारी किया है। बाकी जिलों में भी कुछ जगह गर्म हवाएं सताएंगी।,

बूंदाबांदी के भी आसार
विज्ञान केंद्र के अनुसार, मंगलवार को उत्तरकाशी, चमोली, रुद्रप्रयाग, टिहरी, पिथौरागढ़ व बागेश्वर के ऊंचे क्षेत्रों में कहीं-कहीं हल्की बारिश होगी, हालांकि इससे निचली घाटियों में गर्मी-लू से राहत मिलने के आसार नहीं हैं।