फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News मौसममॉनसून के पहुंचने की तारीख के साथ बारिश पर अलर्ट, अगले चार दिन कैसे रहेगा उत्तराखंड का मौसम?

मॉनसून के पहुंचने की तारीख के साथ बारिश पर अलर्ट, अगले चार दिन कैसे रहेगा उत्तराखंड का मौसम?

मॉनसून दस्तक के दो से तीन दिन में पूरे प्रदेश में छाने की संभावना है। मौसम निदेशक डॉ. बिक्रम सिंह के मुताबिक सोमवार को भी अधिकांश जिलों में बारिश हुई। लैंसडॉउन में 32, रुड़की में 24 बारिश हुई।

मॉनसून के पहुंचने की तारीख के साथ बारिश पर अलर्ट, अगले चार दिन कैसे रहेगा उत्तराखंड का मौसम?
Himanshu Kumar Lallदेहरादून, हिन्दुस्तान टीमTue, 25 Jun 2024 09:33 AM
ऐप पर पढ़ें

उत्तराखंड में अलगे तीन से चार दिन में मॉनसून दस्तक दे सकता है। मौसम विभाग ने ऐसी संभावना जताई है। वहीं सोमवार को प्रदेश के अधिकांश हिस्सों में झमाझम बारिश हुई। 28 जून तक 11 जिलों में बारिश की तेज बौछारें होने का येलो अलर्ट मौसम विभाग ने जारी किया है।

मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक डॉ. बिक्रम सिंह ने बताया कि अभी मॉनसून वेरावल, राजपिपला, उज्जैन, विदिशा, सिद्धी, हल्दिया, साहिबगंज से होकर गुजरा है। दक्षिणी पश्चिमी मानसून अगले तीन से चार दिन में उत्तराखंड के कुछ हिस्सों में पहुंचने की अनुकूल परिस्थिति बन रही है।

मॉनसून दस्तक के दो से तीन दिन में पूरे प्रदेश में छाने की संभावना है। मौसम निदेशक डॉ. बिक्रम सिंह के मुताबिक सोमवार को भी प्रदेश के अधिकांश जिलों में बारिश हुई। लैंसडॉउन में 32, रुड़की में 24, नैनीताल में 23.5 एवं लाखामंडल में 10 एमएम बारिश दर्ज की गई।

देहरादून समेत इन इलाकों में 28 तक बारिश के आसार
28 जून तक प्रदेश के पिथौरागढ़, बागेश्वर, नैनीताल, उत्तरकाशी, चमोली, रुद्रप्रयाग, अल्मोड़ा, चंपावत, देहरादून, टिहरी, पौड़ी, यूएसनगर में हल्की से मध्यम और हरिद्वार में हल्की बारिश की संभावना है। इसके अलावा 40 किमी प्रतिघंटा की रफ्तार से झोंकेदार हवाएं भी चल सकती हैं।

पिथौरागढ़, बागेश्वर, नैनीताल, उत्तरकाशी, चमोली, रुद्रप्रयाग, अल्मोडा, चंपावत, देहरादून, टिहरी, पौडी जिलों में बारिश के तेज दौर होने का येलो अलर्ट जारी किया गया है।

राजधानी में 48 घंटे में 3.3 डिग्री गिरा तापमान
देहरादून में सोमवार को दोपहर के समय कई इलाकों में बूंदाबांदी तो कई इलाकों में झमाझम बारिश हुई। इससे तापमान पिछले 48 घंटों में 3.3 डिग्री सेल्सियस तक गिर गया। मौसम सुहावना होने से लोगों को गर्मी से राहत मिली।

सोमवार को राजपुर रोड, चकराता रोड, राजपुर रोड, रायपुर रोड, आजाद कॉलोनी, माजरा, हरिद्वार बाईपास समेत कई इलाकों में बारिश हुई। शनिवार को तापमान 37.2 डिग्री सेल्सियस था, तो सोमवार को 33.9 डिग्री रहा।

‘आपदा राहत-बचाव को आईआरएस बेहद अहम’
उत्तराखंड राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की ओर से सोमवार को विभिन्न विभागों के नोडल अधिकारियों और जिला आपदा प्रबंधन अधिकारियों का प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस दौरान राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन संस्थान के प्रोफेसर शेखर चतुर्वेदी ने आपदा से निपटने के लिए इंसीडेंट रिस्पांस सिस्टम को अहम बताया। उन्होंने कहा कि आईआरएस एक ऐसी एकीकृत व्यवस्था है जिसके माध्यम से आपदा के समय राहत और बचाव कार्यों को बेहतर तरीके से संचालित करने में मदद मिलती है।

मसूरी में बारिश के कारण मौसम हो गया सुहाना
मसूरी में सोमवार को अपराह्न 300 बजे मौसम ने करवट बदली। देखते ही देखते झमाझम बारिश शुरू हो गई। इस दौरान देश-विदेश से मसूरी घूमने आए पर्यटक मौसम का लुफ्त उठाते हुए नजर आए। करनाल हरियाणा से मसूरी घूमने आए सिद्धू और सोनाली ने बताया कि वह कल यहां आए थे तब यहां पर मौसम काफी गर्म था, लेकिन आज बारिश होने से मौसम काफी ठंडा हो गया है।