फोटो गैलरी

Hindi News मौसमIMD Rainfall Alert: एमपी से तमिलनाडु तक बारिश का अनुमान, कश्मीर-हिमाचल में बर्फबारी; अब छूट रही कंपकपी

IMD Rainfall Alert: एमपी से तमिलनाडु तक बारिश का अनुमान, कश्मीर-हिमाचल में बर्फबारी; अब छूट रही कंपकपी

कश्मीर के ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी और मैदानी इलाकों में बारिश के बाद घाटी में तीन सप्ताह का शुष्क दौर समाप्त हो गया। कुपवाड़ा में बर्फबारी से कुपवाड़ा से तंगधार केरन मार्ग बंद हो गया है।

IMD Rainfall Alert: एमपी से तमिलनाडु तक बारिश का अनुमान, कश्मीर-हिमाचल में बर्फबारी; अब छूट रही कंपकपी
Niteesh Kumarलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीFri, 01 Dec 2023 09:37 AM
ऐप पर पढ़ें

Weather Update: दिसंबर शुरू होते ही मौसम तेजी से करवट लेने लगा है। ठंड बढ़ रही है और कई राज्यों में अचानक हुई बारिश ने लोगों को गर्म कपड़े निकालने पर मजबूर कर दिया है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) का कहना है कि दक्षिण-पूर्व बंगाल की खाड़ी में निम्न दबाव क्षेत्र बन रहा है जो अगले 24 घंटे में अपना असर दिखा सकता है। इस लो-प्रेशर एरिया के 3 दिसंबर के आसपास बंगाल की दक्षिण-पश्चिम खाड़ी के ऊपर चक्रवाती तूफान में बदलने की आशंका है। आईएमडी के मुताबिक, अगले दो दिनों में मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र में गरज के साथ बारिश हो सकती है। साथ ही, पश्चिमी विक्षोभ का प्रभाव भी बना रहेगा, जो पश्चिमी हिमालय क्षेत्र और आसपास के मैदानी इलाकों को प्रभावित करेगा।

दूसरी ओर, देश के उत्तरी हिस्सों में भी बरसात हुई है। चंडीगढ़ में गुरुवार सुबह भारी बारिश और ओलावृष्टि हुई, जबकि श्रीनगर में हल्की बारिश हुई। इस बीच, पुंछ में भारी बर्फबारी जारी है। पंजाब और हरियाणा के कई हिस्सों में गुरुवार को बारिश हुई, जिससे तापमान में कुछ डिग्री सेल्सियस की गिरावट दर्ज की गई। मौसम विभाग ने बताया कि पंजाब में पठानकोट, गुरदासपुर, अमृतसर, मोहाली, रूपनगर और राजपुरा में बारिश हुई। पड़ोसी राज्य हरियाणा में अंबाला और पंचकुला में बारिश दर्ज की गई। साथ ही दोनों राज्यों की संयुक्त राजधानी चंडीगढ़ में भी भारी बरसात हुई। शुक्रवार को भी कुछ हिस्सों में मौसम खराब रहने की आशंका है।

तटीय तमिलनाडु और पुडुचेरी में ऑरेंज अलर्ट 
तटीय तमिलनाडु, पुडुचेरी और कराईकल के लिए मौसम विभाग ने ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। इन इलाकों में 2 से 4 दिसंबर तक भारी से बहुत भारी बारिश की संभावना है। इस दौरान चेन्नई में अलग-अलग हिस्सों, चेंगलपट्टू, कांचीपुरम और तिरुवल्लुर जिले में भारी बरसात हो सकती है। क्षेत्रीय मौसम विज्ञान केंद्र (RMC) ने कहा कि तमिलनाडु और पुडुचेरी में 4 दिसंबर तक ऐसा ही मौसम रहने वाला है। राज्य के उत्तरी तटीय क्षेत्र में गुरुवार को हल्की बारिश हुई, जबकि चेन्नई शहर और आसपास के कई हिस्सों में तेज बारिश के कारण पानी भर गया। इससे यातायात बाधित हुआ और लोगों को परेशानी हुई। चेन्नई और उसके उपनगरों में बुधवार को 10 सेंटीमीटर (सेमी) से 19 सेमी तक की भारी वर्षा के बाद, कई रिहायशी इलाकों, मुख्य सड़कों और प्रमुख चौराहे पानी भर गया। बुधवार से अब तक यहां बारिश से संबंधित घटनाओं में 4 मौत हो चुकी हैं। रात भर बारिश जारी रहने की वजह से स्कूलों में छुट्टी घोषित कर दी गई। साथ ही निचले इलाकों में स्थित कुछ घरों में पानी घुस गया और बिजली भी गुल हो गई।

तेलंगाना में अगले 24 घंटों में गरज के साथ बौछारें
तेलंगाना में अलग-अलग स्थानों पर अगले 24 घंटों के दौरान हल्की से मध्यम बारिश या गरज के साथ बौछारें पड़ने के आसार हैं। मौसम विज्ञान केंद्र की रिपोर्ट में कहा गया कि राज्य में 4 से 6 दिसंबर तक यही स्थिति रहने का अनुमान है। तेलंगाना में शनिवार और रविवार को शुष्क मौसम रह सकता है। पिछले 24 घंटों के दौरान राज्य में अलग-अलग स्थानों पर बारिश हुई। रिपोर्ट में कहा गया कि बुधवार और गुरुवार की दरमियानी रात को तेलंगाना के मेडक में सबसे कम न्यूनतम तापमान 18.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

कश्मीर के ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी
कश्मीर के ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी और मैदानी इलाकों में बारिश के बाद घाटी में तीन सप्ताह का शुष्क दौर गुरुवार को समाप्त हो गया। कुपवाड़ा में ताजा बर्फबारी के कारण कुपवाड़ा से तंगधार केरन मार्ग बंद हो गया। अधिकारियों ने बताया कि कल सुबह उत्तरी कश्मीर के गुलमर्ग और सोनमर्ग में बर्फबारी हुई। श्रीनगर सहित घाटी के अधिकतर हिस्सों में हल्की बूंदाबांदी भी हुई। उन्होंने बताया कि बारिश की वजह से घाटी में पिछले तीन सप्ताह का शुष्क दौर समाप्त हो गया। बारिश और बर्फबारी की वजह से घाटी में सर्दी बढ़ गई। बच्चों और बुजुर्गों को मौसम से जुड़ी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। हालांकि, शुक्रवार से एक सप्ताह तक मौसम शुष्क रहने की उम्मीद है।

हिमाचल के रोहतांग अटल टनल में बर्फबारी
वहीं, हिमाचल प्रदेश के रोहतांग अटल टनल में बर्फबारी हुई है। राज्य के ऊंचाई वाले जनजातीय क्षेत्रों और अन्य ऊंची पहाड़ियों पर गुरुवार को ताजा बर्फबारी हुई है। मध्य और निचली पहाड़ियों पर तेज और बर्फीली हवाओं के साथ कहीं-कहीं बारिश होने के कारण राज्य के अधिकांश हिस्से तीव्र शीत लहर की चपेट में हैं। स्थानीय मौसम कार्यालय ने 1 दिसंबर को मध्य और निचली पहाड़ियों में कहीं-कहीं बारिश और ऊंची पहाड़ियों में कुछ स्थानों पर बारिश या बर्फबारी और उसके बाद शुष्क मौसम रहने का अनुमान जताया है। ऊना में सबसे ज्यादा 28 मिमी बारिश हुई। शिमला में लोग गंभीर शीतलहर की स्थिति का सामना रहा है। राजधानी के आसमान में काले बादल छाए हुए हैं और शहर में हल्की बारिश के साथ बर्फीली हवाएं चल रही हैं।
(एजेंसी इनपुट के साथ)

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें