फोटो गैलरी

Hindi News मौसमCyclone Michaung Death: आंध्र प्रदेश से उत्तर की तरफ बढ़ा मिचौंग, चक्रवात ने 17 की ले ली जान; जानें नया अपडेट

Cyclone Michaung Death: आंध्र प्रदेश से उत्तर की तरफ बढ़ा मिचौंग, चक्रवात ने 17 की ले ली जान; जानें नया अपडेट

Cyclone Michaung Death: चक्रवात मिचौंग की तबाही में 17 लोगों की जान जा चुकी है। यह भयंकर चक्रवाती तूफान अब आंध्र से उत्तर भारत की तरफ बढ़ गया है।

Cyclone Michaung Death: आंध्र प्रदेश से उत्तर की तरफ बढ़ा मिचौंग, चक्रवात ने 17 की ले ली जान; जानें नया अपडेट
Gaurav Kalaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीWed, 06 Dec 2023 11:59 AM
ऐप पर पढ़ें

Cyclone Michaung Death: चक्रवाती तूफान मिचौंग ने तमिलनाडु, पुडुचेरी, ओडिशा और आंध्र प्रदेश में जबरदस्त तबाही मचाई। खासकर, चेन्नै और आंध्र प्रदेश के तटीय इलाकों में भारी बारिश की वजह से 17 लोगों की मौत हो गई। मिचौंग ने मंगलवार दोपहर बाद आंध्र प्रदेश के दक्षिण तटीय इलाके पर हिट किया। इस दौरान हवा की रफ्तार 110 किलोमीटर प्रति घंटा तक पहुंच गई थी। इसके अलावा भारी बारिश से सड़कों में जलभराव की स्थिति पैदा हो गई थी। चक्रवात की वजह से करीब दो करोड़ लोग प्रभावित हुए हैं। मौसम विभाग ने कहा है कि अब चक्रवात उत्तर की तरफ बढ़ रहा है। हालांकि अब चक्रवात की रफ्तार उतनी अधिक नहीं है। अगले छह घंटों में चक्रवात कमजोर होगा। बारिश तो नहीं लेकिन दिल्ली-एनसीआर समेत कई नॉर्थ वेस्ट राज्यों में चक्रवात की वजह कोहरा जरूर रह सकता है।

चक्रवात मिचौंग की दस्तक से आंध्र प्रदेश में भारी बारिश और चेन्नई में लोगों को बाढ़ का सामना करना पड़ा है। इस  आपदा में अभी तक आंध्र और चेन्नै के करीब 10 जिलों में 17 लोगों की मौत हो गई है। भारत मौसम विज्ञान विभाग ने कहा है कि बंगाल की खाड़ी से उठा भीषण चक्रवाती तूफान अब कमजोर होकर दबाव में बदल गया है।

मिचौंग ने मचाई तबाही, दो करोड़ लोग प्रभावित
भारी बारिश और बाढ़ के बाद चेन्नई ठप हो गई। बारिश से संबंधित घटनाओं के कारण शहर में 16 लोगों की मौत हो गई है। चक्रवात के कारण चेन्नै सबसे अधिक प्रभावित स्थानों में से है। ग्रेटर चेन्नई पुलिस ने कहा कि डूबने और बिजली का झटका लगने की कम से कम दस घटनाएं सामने आई हैं। राहत कार्य लगातार जारी है।

लोगों को खाने के लाले
चक्रवात की सबसे अधिक मार चेन्नै के लोगों को झेलनी पड़ी है। ग्रेटर चेन्नई कॉरपोरेशन के आयुक्त डीआर जे राधाकृष्णन ने बताया कि चेन्नई में भोजन और अन्य राहत सामग्री हवाई मार्ग से गिराई जा रही है और बाढ़ग्रस्त कई निचले इलाकों से पानी निकाला जा रहा है। एनडीआरएफ की अतिरिक्त टीमों को बुलाया गया है और निचले इलाकों में 300 नावें तैनात की गई हैं। डॉ जे राधाकृष्णन ने कहा कि अन्य जिलों से लगभग 5,000 सरकारी कर्मचारी राहत प्रयासों में शामिल हैं।

चेन्नै में आज भी स्कूल बंद
चेन्नई में आज स्कूल और कॉलेजों को बंद रखने का आदेश दिया गया है और शहर में 80 प्रतिशत बिजली आपूर्ति बहाल कर दी गई है। शहर के कई निवासी बिजली कटौती और मोबाइल कनेक्टिविटी नहीं होने से जूझ रहे हैं। इसके अलावा शहर के कई प्रमुख सड़कों पर यातायात बहाल कर दिया गया है। जिसमें कामराजल सराय, कैथेड्रल, पोंडी बाज़ार, डैम्स, आरके सलाई और अन्ना सलाई रोड शामिल है। ग्रेटर चेन्नई पुलिस ने कहा कि सड़कों से जल जमाव हटाया जा रहा है।

उत्तर की तरफ बढ़ा चक्रवात
भारत मौसम विज्ञान विभाग ने कहा कि चक्रवात कमजोर होकर दबाव में बदल गया है और आंध्र प्रदेश में उत्तर की ओर बढ़ रहा है। इसके आंध्र प्रदेश में उत्तर की ओर बढ़ने और अगले छह घंटों में कमजोर होने की उम्मीद है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें