फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News मौसमCyclone Alert: सावधान! बंगाल की खाड़ी में बन रहा कम दबाव का क्षेत्र, भयंकर तूफान की आशंका; इन राज्यों में होगी झमाझम बारिश

Cyclone Alert: सावधान! बंगाल की खाड़ी में बन रहा कम दबाव का क्षेत्र, भयंकर तूफान की आशंका; इन राज्यों में होगी झमाझम बारिश

Cyclone Rain Alert: मौसम विभाग के अनुसार, तमिलनाडु, पुडुचेरी, कराईकल, केरल, माहे, लक्षद्वीप, कर्नाटक में हल्की से मध्यम बारिश अगले सात दिनों तक होने की संभावना है।

Cyclone Alert: सावधान! बंगाल की खाड़ी में बन रहा कम दबाव का क्षेत्र, भयंकर तूफान की आशंका; इन राज्यों में होगी झमाझम बारिश
Madan Tiwariलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीSun, 19 May 2024 04:30 PM
ऐप पर पढ़ें

IMD Cyclone Alert: उत्तर भारत समेत देशभर के कई राज्यों में भीषण गर्मी पड़ रही है। यूपी-दिल्ली समेत उत्तर पश्चिम भारत में तो गर्मी से जल्द राहत मिलने की उम्मीद नहीं है, लेकिन दक्षिण भारत में जरूर बारिश का अलर्ट है। इस बीच, दक्षिण-पश्चिम बंगाल की खाड़ी के ऊपर कम दबाव का क्षेत्र बनने की संभावना जताई गई है। इसकी वजह से चक्रवाती तूफान आ सकता है और कई राज्यों में भारी बारिश हो सकती है।  

मौसम विभाग के अनुसार, 22 मई के आसपास दक्षिण-पश्चिम बंगाल की खाड़ी के ऊपर एक कम दबाव का क्षेत्र बन सकता है। इसके शुरू में उत्तर-पूर्व की ओर बढ़ने और 24 मई के आसपास बंगाल की खाड़ी के मध्य भागों पर एक दबाव में तब्दील होने की संभावना है। हालांकि, इसकी वजह से मॉनसून पर ज्यादा असर पड़ता नहीं दिख रहा है। मौसम विभाग के अनुसार, उत्तर पश्चिम भारत, पूर्वी और मध्य भारत के राज्यों में अगले पांच दिनों के दौरान हीटवेव से लेकर गंभीर हीटवेव की आशंका जताई गई है।

पिछले 24 घंटे राजस्थान, उत्तर प्रदेश, गुजरात में हीटवेव से लेकर गंभीर हीटवेव की स्थिति देखी गई। हरियाणा, चंडीगढ़, पंजाब, दिल्ली, मध्य प्रदेश के कई इलाकों में भी हीटवेव चली। इसके अलावा, कर्नाटक, छत्तीसगढ़, तमिलनाडु में भारी बारिश हुई। विदर्भ के इलाकों में ओले गिरे। बीते दिन सबसे अधिक तापमान राजस्थान के बाड़मेर में 46.9 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया।

दक्षिण भारत में अगले सात दिनों तक बारिश का अलर्ट
मौसम विभाग के अनुसार, तमिलनाडु, पुडुचेरी, कराईकल, केरल, माहे, लक्षद्वीप, कर्नाटक में हल्की से मध्यम बारिश अगले सात दिनों तक होने की संभावना है। इसके अलावा, आंधी तूफान और बिजली भी कड़क सकती है। तेलंगाना, रायलसीमा के लिए भी ऐसा ही अलर्ट जारी किया गया है। इसमें से तटीय कर्नाटक में 19, 20 और 23 मई, साउथ इंटीरियर कर्नाटक में 22 और 23 मई, तटीय आंध्र प्रदेश, रायलसीमा में 19 मई, लक्षद्वीप में 19-22 मई को भारी बरसात हो सकती है।

इसके अलावा, अंडमान और निकोबार द्वीप में अगले सात दिनों तक भारी बारिश होने की संभावना है। वहीं, गोवा, कोंकण, मध्य महाराष्ट्र, मराठवाड़ा में 19-22 मई, विदर्भ, छत्तीसगढ़ में 19-23 मई, पश्चिमी मध्य प्रदेश में 19 मई और पूर्वी मध्य प्रदेश में 19, 20 मई को तेज बारिश, आंधी तूफान का अलर्ट जारी किया गया है। इसके अलावा, ओडिशा, बिहार में 19-23 मई, गंगीय पश्चिम बंगाल और झारखंड में 19-22 मई को हल्की से मध्यम बारिश की संभावना है। वहीं, सब हिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम में अगले पांच दिनों तक हल्की से मध्यम बरसात हो सकती है।

पूर्वोत्तर भारत में भी होगी बारिश
पूर्वोत्तर भारत की बात करें तो अरुणाचल प्रदेश, असम, मेघालय, नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा में अगले पांच दिनों के दौरान हल्की से मध्यम बारिश की संभावना जताई गई है। वेस्टर्न डिस्टर्बेंस की वजह से उत्तर पश्चिम भारत के पहाड़ी राज्यों पर भी मौसम में बदलाव होगा। इसकी वजह से जम्मू कश्मीर, लद्दाख, हिमाचल प्रदेश में 19-21 मई, उत्तराखंड में अगले सात दिनों के दौरान हल्की बारिश होगी। वहीं, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, दिल्ली, चंडीगढ़, राजस्थान में भी अगले पांच दिनों के दौरान 25-35 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं।