फोटो गैलरी

Hindi News वायरल न्यूज़यह कैसी मां? नवजात को ओवन में रख कर खुद सो गई; झुलस गया मासूम

यह कैसी मां? नवजात को ओवन में रख कर खुद सो गई; झुलस गया मासूम

महिला ने अपने शिशु को सुलाने के लिए उसे पालने के बजाय कथित तौर पर गलती से 'ओवन' (खाद्य सामग्री बनाने या उन्हें गर्म करने के लिए इस्तेमाल किया जाने वाला उपकरण) में रख दिया जिसके कारण उसकी मौत हो गई।

यह कैसी मां? नवजात को ओवन में रख कर खुद सो गई; झुलस गया मासूम
Himanshu Tiwariलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीSun, 11 Feb 2024 12:51 PM
ऐप पर पढ़ें

अमेरिका के मिजूरी में महिला की लापरहाली ने उसके बच्चे की जान ले ली। उस महिला को यह तक समझ में नहीं आया कि वह अपने बच्चे का कहां सुला रही है। महिला ने अपने शिशु को सुलाने के लिए उसे पालने के बजाय कथित तौर पर गलती से 'ओवन' (खाद्य सामग्री बनाने या उन्हें गर्म करने के लिए इस्तेमाल किया जाने वाला उपकरण) में रख दिया जिसके कारण उसकी मौत हो गई। एक अभियोजक ने शनिवार को यह जानकारी दी। कंसास सिटी की मारियाह थॉमस पर अपने बच्चे को खतरे में डालने के आरोप लगाए गए हैं। महिला ने यह काम गलती से किया या जानबूझकर इसका पता लगाने के लिए पुसिस जांच कर रही है।

पुलिस को शुक्रवार दोपहर को एक शिशु के सांस नहीं लेने की जानकारी मिली थी। इस घटना के संभावित कारण संबंधी अदालती बयान में कहा गया है कि बच्चे के शरीर पर जलने के निशान थे और उसे मृत घोषित कर दिया गया। बयान में कहा गया है कि सूचना मिलने पर घटनास्थल पर पहुंचे अधिकारियों को एक गवाह ने बताया कि मां ने ''बच्चे को सुलाने के लिए पालने के बजाय गलती से ओवन में रख दिया।''

पुलिस ने जांच शुरू की तो महिला ने बताया कि रात को बच्चे को दूध पिलाने के बाद वह उसे पालने में सुलाने लगी। लेकिन पता नहीं कैसे उसने गलती से बच्चे को ओवन में डाल दिया। सुबह जब उसी नींद खुली तो उसे ध्यान आया कि उसने तो गलती से बच्चे को ओवन में ही सुला दिया था। जैसे ही उसने ओवन खोलकर देखा तो बच्चा उसमें झुलस चुका था। तुरंत उसने बच्चे को अस्पताल पहुंचाया लेकिन तब तक बच्चे की मौत हो चुकी थी। पोस्टमार्टम में इस बात का खुलासा हुआ है कि बच्चे की मौत दम घुटने और जलने से हुई है।

बयान में यह नहीं बताया गया कि इस प्रकार की गलती कैसे हुई। जैक्सन काउंटी में अभियोजन पक्ष के वकील जीन पीटर्स बेकर ने एक बयान में कहा, ''यह अत्यंत त्रासदीपूर्ण घटना हैं और हम एक अनमोल जीवन के खोने से दुखी हैं। हमें भरोसा है कि आपराधिक न्याय प्रणाली इस भयानक घटना को लेकर उचित कार्रवाई करेगी।''

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें