DA Image
Monday, November 29, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ वायरल न्यूज़शख्स के पेट में छह महीने से था दर्द, डॉक्टरों ने ऑपरेशन किया तो निकला मोबाइल

शख्स के पेट में छह महीने से था दर्द, डॉक्टरों ने ऑपरेशन किया तो निकला मोबाइल

लाइव हिन्दुस्तान, नई दिल्लीGaurav
Tue, 19 Oct 2021 01:28 PM
शख्स के पेट में छह महीने से था दर्द, डॉक्टरों ने ऑपरेशन किया तो निकला मोबाइल

कई बार डॉक्टर मरीजों के पेट से कुछ ऐसा निकालते हैं, जिसे देखकर सब हैरान रह जाते हैं। ऐसा ही एक मामला सामने आया जहां एक शख्स के पेट में छह महीने से मोबाइल पड़ा हुआ था। आश्चर्य की बात यह है कि उस शख्स को भी नहीं पता था कि उसने मोबाइल निगल लिया है। जब उसके पेट में दर्द तेज हुआ तो उसने डॉक्टरों से संपर्क किया। इसके बाद जो हुआ वह हैरान करने वाला था।

दरअसल, यह घटना मिस्र के एक अस्पताल से सामने आई है। 'गल्फ न्यूज' ने अपनी एक ऑनलाइन रिपोर्ट में इस बारे में जानकारी दी है। रिपोर्ट के मुताबिक, यह शख्स मूल रूप से ब्रिटेन का रहने वाला है। 33 साल के इस शख्स ने करीब छह महीने पहले गलती से एक मोबाइल निगल लिया था। इसकी उसे खुद भी जानकारी नहीं थी। लगातार पेट दर्द की शिकायत और हालत बिगड़ने पर वह डॉक्टर के पास गया।

इसी कड़ी में एक दिन डॉक्टर ने उस शख्स का एक्सरे किया तो चौंकाने वाला खुलासा हुआ। डॉक्टरों ने पाया कि उसके पेट में मोबाइल है। इसके बाद यह तय हुआ कि ऑपरेशन के जरिए इस मोबाइल को निकाला जाएगा। डॉक्टरों की एक टीम ने उसका जब ऑपरेशन किया तो गुलाबी रंग की एक मोबाइल निकाली गई। डॉक्टरों ने बताया कि यह काफी समय से शख्स के पेट में भी थी।

जांच में भी यही पता चला कि करीब छह महीने से यह मरीज के पेट में थी। हालांकि रिपोर्ट में इस बात का जिक्र नहीं है कि शख्स के पेट में मोबाइल कैसे पहुंची। शख्स का ऑपरेशन करने वाली डॉक्टरों की टीम के एक सदस्य डॉक्टर स्केंडर ने गुलाबी रंग के नोकिया फोन की तस्वीरें शेयर की हैं। यह तस्वीर सोशल मीडिया पर भी वायरल हुई है।

फिलहाल ऑपरेशन के बाद शख्स की हालत स्थिर बताई जा रही है। जिस अस्पताल में शख्स का ऑपरेशन हुआ उसका नाम असवान यूनिवर्सिटी हॉस्पिटल है। इसके निदेशक मोहम्मद अल-दहशौरी ने बताया कि उन्होंने पहली बार ऐसा मामला देखा है, जिसमें एक मरीज के पेट से एक पूरा मोबाइल बाहर निकाला है। फिलहाल वह अब खतरे से बाहर है।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें