फोटो गैलरी

Hindi News वायरल न्यूज़अजब-गजब पाकिस्तान, 13 साल के लड़के की 12 साल की लड़की से होने जा रही शादी; इंटरनेट पर हंगामा

अजब-गजब पाकिस्तान, 13 साल के लड़के की 12 साल की लड़की से होने जा रही शादी; इंटरनेट पर हंगामा

लड़के ने अपने घरवालों को यह अल्टीमेटम दे दिया था कि वह अपनी पढ़ाई तभी आगे जारी रखेगा जब उसकी पसंद की लड़की से शादी कराई जाएगी। इस बात को लेकर उसके परिवार के लोग काफी परेशान हो गए थे।

अजब-गजब पाकिस्तान, 13 साल के लड़के की 12 साल की लड़की से होने जा रही शादी; इंटरनेट पर हंगामा
Niteesh Kumarलाइव हिन्दुस्तान,इस्लामाबादFri, 23 Feb 2024 06:36 PM
ऐप पर पढ़ें

पाकिस्तान में 13 साल के लड़के की 12 साल की लड़की से शादी इन दिनों सोशल मीडिया पर चर्चा का विषय है। लोगों ने इसे लेकर अपने गुस्से का इजहार किया है और इस बाल विवाह को गलत बताया है। यह बात ध्यान देने वाली है कि पाकिस्तान में भी शादी को लेकर न्यूनतम उम्र का कानून बना हुआ है। ऐसे में लोग यह सवाल कर रहे हैं कि खुलेआम कानून तोड़ा गया और इस पर कोई ऐक्शन क्यों नहीं हुआ? पाकिस्तानी कानून के मुताबिक, 18 साल से कम आयु का लड़का निकाह नहीं कर सकता है जबकि लड़की के लिए मिनिमम एज 16 साल है। हालांकि, सिंध प्रांत में विवाह को लेकर जो कानून लागू है, उसके मुताबिक लड़का और लड़की दोनों की उम्र 18 बरस से अधिक होनी चाहिए। 

रिपोर्ट के मुताबिक, लड़के ने अपने घरवालों को यह अल्टीमेटम दिया था कि वह अपनी पढ़ाई तभी जारी रखेगा जब उसकी पसंद की लड़की से शादी कराई जाएगी। इस बात को लेकर उसके परिवार के लोग काफी परेशान हो गए और उन्होंने दोनों की इंगेजमेंट करा दी। अब जल्द ही निकाह भी होने वाला है। हैरान करने वाली बात यह है कि लड़के और लड़की दोनों की मां ने इस शादी का समर्थन किया है और इसे सही करार दे रही हैं। लड़की की मां ने कहा, 'मेरा निकाह 16 साल की उम्र में हुआ था। मैं अपने अनुभव के आधार पर कह रही हूं कि यह सही फैसला है।'

लड़के की मां बोली- मुझे कोई दिक्कत नहीं 
मीडिया में लड़के की मां का भी बयान छपा है। उन्होंने कहा, 'जब मेरी शादी हुई तब मैं 25 साल की थी। मगर, मेरा बेटा कम उम्र में निकाह कर रहा है तो मुझे कोई दिक्कत नहीं है।' लड़के और लड़की के घरवालों ने भले इस शादी का समर्थन किया हो, लेकिन इंटरनेट यूजर्स इस पर भड़के हुए हैं। एक शख्स ने कमेंट किया, 'यह तो हद हो गई है।' एक अन्य व्यक्ति ने कहा, 'अगर ये दोनों कंटेंट क्रिएटर हैं तो बात समझ में आती है। ऐसी स्थिति में यह पूरी प्लानिंग के साथ उठाया गया कदम हो सकता है।' वहीं, बहुत से लोगों ने कमेंट करके कहा है कि बाल विवाह को बढ़ावा देना सही नहीं है। इस उम्र में बच्चों को पढ़ने-लिखने और दूसरी स्किल्स डेवलप करने पर ध्यान देना चाहिए। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें