Friday, January 28, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ वायरल न्यूज़तीन अरब रुपये में बिकी यह पेंटिंग, पोस्टर समझकर मामूली दाम में लाया था शख्स

तीन अरब रुपये में बिकी यह पेंटिंग, पोस्टर समझकर मामूली दाम में लाया था शख्स

लाइव हिन्दुस्तान, नई दिल्लीGaurav
Sat, 27 Nov 2021 01:31 PM
तीन अरब रुपये में बिकी यह पेंटिंग, पोस्टर समझकर मामूली दाम में लाया था शख्स

इस खबर को सुनें

कई बार ऐसा होता है जब किसी पेंटिंग की कीमत इतनी लग जाती है कि उसकी कीमत करोड़ो-अरबों में पहुंच जाती है। लेकिन एक ऐसा मामला सामने आया है जब एक शख्स ने एक मामूली सी पेंटिंग खरीदकर अपनी दीवार पर लगाई लेकिन कुछ ऐसी घटना घटी कि वही मामूली पैसे में मिली पेंटिंग तीन अरब में बिक गई। यह सब तब हुआ जब यह पता चला कि पेंटिंग सदियों पुरानी है।

दरअसल, यह घटना अमेरिका के मैसाच्युसेट्स की है। 'द मिरर' की एक रिपोर्ट के मुताबिक, यहां के रहने वाले एक शख्स ने कुछ दिन पहले बाजार से यूं ही एक मामूली से पेंटिंग खरीदी थी और उसे लाकर अपने घर के एक कमरे में टांग दी थी। उसे अंदाजा नहीं था कि इस पेंटिंग पर किया गया स्केच काफी पुराना है और बिल्कुल ओरिजनल है।

उस शख्स को किसी ने जब इस स्केच के बारे में बताया तो उसने किसी जानकार को दिखाया। तब जाकर पूरी सच्चाई उसको पता चली। यह पेंटिंग सन 1503 में बनाया गया था और पीले रंग के लेनिन कपड़े पर बनाया गया स्केच दुनिया के कुछ मशहूर मोनोग्राम्स एल्ब्रेट डुरर के मोनोग्राम्स में से एक है। यह पुनर्जागरण काल के जर्मन आर्टिस्ट का ओरिजनल आर्टवर्क है, जो उस शख्स के हाथ लगा।

रिपोर्ट में इस बात का भी जिक्र है कि इसकी कीमत भारतीय मुद्रा में तीन अरब से भी ज्यादा की आंकी गई है। स्केच को देखकर एक्सपर्ट हैरान रह गए कि ये उस शख्स के हाथ इतनी कम कीमत में कहां से लग गया। इसके बाद उसने खुद बताया कि इसे उसने बाजार से मामूली दाम में खरीदा था। जानकारी के मुताबिक, इस स्केच पर एक मां-बच्चे की तस्वीर को उकेरा गया है।

epaper

संबंधित खबरें