फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News वायरल न्यूज़भाजपा की जीत की खुशी में सभी भारतीयों को फ्री रिचार्ज दे रहे हैं नरेंद्र मोदी? सच्चाई जान लो

भाजपा की जीत की खुशी में सभी भारतीयों को फ्री रिचार्ज दे रहे हैं नरेंद्र मोदी? सच्चाई जान लो

जांच में आगे हमने नरेंद्र मोदी और भाजपा के आधिकारिक सोशल मीडिया अकाउंट और भाजपा की आधिकारिक वेबसाइट को खंगाला। लेकिन वहां भी इस दावे की पुष्टि करती कोई जानकारी नहीं मिली।

भाजपा की जीत की खुशी में सभी भारतीयों को फ्री रिचार्ज दे रहे हैं नरेंद्र मोदी? सच्चाई जान लो
Amit Kumarलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीWed, 05 Jun 2024 07:34 PM
ऐप पर पढ़ें

भाजपा की जीत की खुशी में नरेंद्र मोदी सभी भारतीय यूजर्स को ₹719 का 84 दिन वाला फ्री रिचार्ज दे रहे हैं। यह दावा हमें WhatsApp Tip Line (9999499044) पर भी प्राप्त हुआ है।

लोकसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद से नरेंद्र मोदी द्वारा भाजपा की जीत की खुशी में सभी भारतीय यूजर्स को फ्री रिचार्ज दिए जाने का दावा शेयर किया जा रहा है। इस दावे की पड़ताल के लिए हमने कुछ कीवर्ड्स को गूगल सर्च किया। हमें दावे की पुष्टि करती कोई विश्वसनीय रिपोर्ट नहीं मिली।

जांच में आगे हमने नरेंद्र मोदी और भाजपा के आधिकारिक सोशल मीडिया अकाउंट और भाजपा की आधिकारिक वेबसाइट को खंगाला। लेकिन वहां भी इस दावे की पुष्टि करती कोई जानकारी नहीं मिली।

अब हमने शेयर किये गए लिंक पर क्लिक किया। यह लिंक ‘mahirfacts’ नामक वेबसाइट पर खुलता है। यह वेबसाइट हमें संदिग्ध लगी, इसलिए हमने इसे स्कैम डिटेक्टर पर चेक किया। स्कैम डिटेक्टर इस वेबसाइट को असुरक्षित और जोखिम भरा बताता है।

जांच में आगे हम इस वेबसाइट पर रिचार्ज का लाभ पाने के लिए दिए गए बटन पर क्लिक करते हैं तो पाते हैं कि यह एक फिशिंग लिंक है, जो ब्लॉग स्पॉट की वेबसाइट पर ले जाता है। ब्लॉग स्पॉट की मदद से बनाये गए इस पेज पर यूजर्स से उनका मोबाइल नंबर माँगा जाता है।

जांच में आगे हम ‘who is’ पर भी इस वेबसाइट से जुड़ी अन्य जानकारियां खंगालते हैं। यहां बताया गया है कि यह डोमेन 30 मई 2023 को ‘HOSTINGER operations, UAB’ के नाम से रजिस्टर कराया गया था।

अपनी जांच से हम इस निष्कर्ष पर पहुँचते हैं कि भाजपा की जीत की खुशी में नरेंद्र मोदी द्वारा सभी भारतीय यूजर्स को फ्री रिचार्ज देने के नाम पर वायरल हुआ दावा फर्जी है। हम अपने पाठकों से अपील करते हैं कि कृपया किसी भी अनजान लिंक पर क्लिक करने से पहले उसकी सत्यता की जांच जरूर करें। ऐसे लिंक जोखिम भरे हो सकते हैं।

Result: False

डिस्क्लेमर: इस स्टोरी को न्यूजचेकर ने प्रकाशित किया था, जिसे लाइव हिन्दुस्तान ने पुनर्प्रकाशित किया है। यह Shakti Collective प्रोजेक्ट के तहत किया गया है।