फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News वायरल न्यूज़आपको भी ईद की राम-राम; वायरल हो रहे SI ने बताया क्यों किया ऐसा

आपको भी ईद की राम-राम; वायरल हो रहे SI ने बताया क्यों किया ऐसा

आपको भी ईद की राम-राम; नमाज पढ़ने जा रहे मुस्लिम समाज के लोगों को इस तरह मुबारकबाद देते हुए एक एसआई का वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है। एसआई ने कहा कि वह गंगा-जमुनी तहजीब को बढ़ा रहे थे।

आपको भी ईद की राम-राम; वायरल हो रहे SI ने बताया क्यों किया ऐसा
Sudhir Jhaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीThu, 20 Jun 2024 01:16 PM
ऐप पर पढ़ें

आपको भी ईद की राम-राम; नमाज पढ़ने जा रहे मुस्लिम समाज के लोगों को इस तरह मुबारकबाद देते हुए एक एसआई का वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है। वीडियो में दिख रहा है कि रेलवे प्रोटक्शन फोर्स (आरपीएफ) का एक सब इंस्पेक्टर 'ईद की राम राम, जय हिंद जय भारत' कहकर लोगों को मुबारकबाद दे रहा है। लोग इसे अलग-अलग नजरिए से देख रहे हैं। हालांकि, एसआई का दावा है कि उनका इरादा नेक था।

सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहे वीडियो में दिखता है कि सब इंस्पेक्टर एक के बाद एक कई लोगों से मिलते हैं। मुस्लिम समाज के लोग उन्हें ईद की मुबारकबाद देते हैं। एसआई सबसे हाथ मिलते हुए उन्हें जवाब में ईद की राम-राम करते हुए मुबारकबाद देते हैं। लाइव हिन्दुस्तान ने वायरल वीडियो की पड़ताल की तो पता चला कि वीडियो में दिख रहे सब इंस्पेक्टर का नाम सुंदर महावर हैं। इंस्टाग्राम पर अक्सर रील्स साझा करने वाले सुंदर से हमने फोन पर बातचीत की। सुंदर ने पुष्टि की कि यह वीडियो उनका ही है और उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में रिकॉर्ड किया गया है।

पंजाब फिरोजपुर में पोस्टेड सुंदर महावर ने बताया कि चुनावी ड्यूटी के सिलसिल में वह बुलंदशहर में थे। वह मूल रूप से गुरुग्राम के पास पटौदी के रहने वाले हैं। सोशल मीडिया पर इस वीडियो को खूब वायरल किया जा रहा है। कुछ लोग महावर को हिंदूवादी पुलिस अधिकारी के रूप में भी पेश कर रहे हैं।

गंगा-जमुनी तहजीब को बढ़ावा देना था उद्देश्य
वायरल हो रहे एसआई सुंदर महावर ने लाइव हिन्दुस्तान से बातचीत में कहा कि मुस्लिम समाज के लोगों ने उन्हें ईद की मुबारकबाद दी। उन्होंने भी जवाब में ईद की राम-राम और जय हिंद-जय भारत कहा। महावर का कहना है कि कुछ लोग इसे गलत नजरिए से भी पेश कर रहे हैं लेकिन उनका उद्देश्य अच्छा था। सब इंस्पेक्टर ने कहा, 'मेरा उद्देश्य गंगा जमुनी तहजीब को बढ़ावा देना था। हम सब अपने-अपने धर्म का पालन करते हुए मेलजोल से रह सकते हैं।' खुद को हिंदू-मुस्लिम एकता का पैरोकार बताते हुए सुंदर महावर ने कहा कि वह धार्मिक प्रवृत्ति के व्यक्ति हैं और सभी धर्मों का सम्मान करते हैं। 

Advertisement