DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   वीडियो  ›  उत्तरप्रदेश  ›  Varanasi बेटा देश के लिए शहीद, मां-बाप पाई-पाई को मोहताज
उत्तरप्रदेश

Varanasi बेटा देश के लिए शहीद, मां-बाप पाई-पाई को मोहताज

Sun, 26 Jul 2020 09:53 PM

आज कारगिल विजय दिवस है। कारगिल हमले में शहीद जवानों को याद कर नमन किया जा रहा है। वाराणसी में भी कारगिल शहीदों को श्रद्धांजलि दी जा रही है। लेकिन हम बात बीस साल पहले हुए कारगिल हमले की नहीं कर रहे। पिछले साल हुए पुलवामा हमले की बात कर रहे हैं। पुलवामा में शहीद हुए वाराणसी के जवान रमेश यादव का परिवार आज पाई-पाई को मोहताज है। बुजुर्ग पिता गांव के अलग अलग दूधियों के यहां से दूध जुटाकर शहर में बेचने जाते हैं। तब कहीं जाकर परिवार का गुजारा चलता है। ऐसा नहीं है कि शहीद के परिवार को सरकार की तरफ से कुछ नहीं मिला। परिवार के अनुसार जो भी मिला पत्नी को मिला। न तो हम बुजुर्गों का ध्यान रखा गया न ही बेरोजगार भाई के बारे में कुछ सोचा गया। मां-बाप चाहते हैं कि जो बेटा चला गया उसकी याद संजो दी जाए। दूसरे बेटे को कोई नौकरी मिल जाए। दूसरा बेटा सेना में भर्ती न हो सके तो कम से कम होमगार्ड ही बन...