DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तराखंड › विकासनगर › ग्रामीणों की अधिकारियों के साथ वार्ता विफल, धरना जारी
विकासनगर

ग्रामीणों की अधिकारियों के साथ वार्ता विफल, धरना जारी

हिन्दुस्तान टीम,विकासनगरPublished By: Newswrap
Tue, 21 Sep 2021 06:30 PM
ग्रामीणों की अधिकारियों के साथ वार्ता विफल, धरना जारी

विस्थापन की मांग को लेकर व्यासी बांध निर्माण स्थल जुड्डो में धरने पर बैठे लोहारी के ग्रामीणों और अधिकारियों की वार्ता विफल रही। धरना स्थल पहुंचे प्रशासनिक अधिकारियों और ग्रामीणों के बीच सहमति नहीं बन पाई। ग्रामीण विस्थापन की मांग पूरी करने और निर्माण कार्य शुरू कराने की मांग पर अड़े रहे।

ग्रामीणों से सोमवार देर शाम को वार्ता करने के लिए एडीएम एसके बर्नवाल, एसपी देहात स्वतंत्र कुमार सिंह, एसडीएम विनोद कुमार, सीओ बीडी उनियाल, निदेशक यूजेवीएनएल सुरेश बलूनी और लखवाड़-व्यासी जल विद्युत परियोजना के अधिशासी निदेशक राजीव अग्रवाल पहुंचे। अधिकारियों ने ग्रामीणों से धरना समाप्त कर बांध निर्माण कार्य शुरू कराने के लिए आपसी सहमति बनाने की पहल की, लेकिन ग्रामीण विस्थापन की मांग पर अड़े रहे। ग्रामीणों ने अधिकारियों को बताया कि परियोजना निर्माण के लिए सरकार की ओर से कृषि भूमि अधिकृत की गई है। जबकि लोहारी गांव पूर्ण तौर पर प्रभावित गांव है। बांध निर्माण से गांव डूबने की कगार पर पहुंच जाएगा। बावजूद इसके प्रदेश सरकार उनके विस्थापन के लिए कोई कार्रवाई नहीं कर रही है। बताया कि विस्थापन नहीं होने के कारण नई पीढ़ी को अपने प्रदेश में शरणार्थियों का जीवन बिताने के लिए मजबूर होना पड़ेगा। कहा कि वर्ष 2017 में मंत्रिमंडल में पारित प्रस्ताव के अनुसार लोहारी गांव का विस्थापन होने के बाद ही धरना समाप्त किया जाएगा। विस्थापन की मांग पूरी होने तक बांध निर्माण कार्य भी शुरू होने नहीं दिया जाएगा। ग्रामीणों ने अधिकारियों के सामने प्रदेश सरकार और जल विद्युत निगम पर उनकी उपेक्षा का आरोप लगाया। प्रशासनिक अधिकारियों के साथ वार्ता के दौरान बलवीर चौहान, दिनेश तोमर, नरेश चौहान, संदीप, रमेश चौहान, विजय, जीवन सिंह, सुरेंद्र, टीकम सिंह, कुंपाल सिंह, दिवान सिंह, पूरण वर्मा, जग्गो देवी, बिजमा देवी आदि शामिल रहे।

संबंधित खबरें