DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तराखंड › विकासनगर › एनएचएम कर्मियों ने किया सांकेतित विरोध
विकासनगर

एनएचएम कर्मियों ने किया सांकेतित विरोध

हिन्दुस्तान टीम,विकासनगरPublished By: Newswrap
Sat, 19 Jun 2021 04:00 PM
एनएचएम कर्मियों ने किया सांकेतित विरोध

मार्च माह से कांट्रेक्ट रिन्युअल नहीं हुआ

कर्मचारियों ने आंदोलन तेज करने का किया ऐलान

विकासनगर। संवाददाता

मार्च माह से रिन्युअल की राह ताक रहे राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (एनएचएम) कर्मियों ने शनिवार को उप जिला चिकित्सालय में प्रदेश सरकार के खिलाफ सांकेतिक विरोध जताया। कहा कि तीस जून तक समय सीमा पूरी होने के बाद भी मांगें नहीं माने जाने पर आंदोलन तेज किया जाएगा।

समान कार्य समान वेतन, वेतन विसंगति समेत कई मांगों को लेकर कई दिनों से काला फीता बांध कर विरोध जता रहे एनएचएम कर्मियों ने कई सहयोगियों का रिन्युअल नहीं होने पर नाराजगी जताई। एनएचएम कर्मचारी संगठन जिला महासचिव प्रमोद नेगी ने कहा कि बिना रिन्युअल के ही कई कर्मचारी मार्च माह से ड्यूटी दे रहे हैं, जिनमें से अधिकांश की कोविड ड्यूटी भी लगाई गई है। ऐसे में कर्मचारी के कोविड संक्रमित होने और अनहोनी होने पर परिवार के भविष्य पर भी संकट के बादल मंडरा रहे हैं। कांट्रेक्ट रिन्युअल नहीं होने से कार्य के दौरान कई बार प्रशासनिक दिक्कतें भी आ रही हैं। कहा कि छह दिन की हड़ताल के दौरान सरकार की ओर से जल्द सभी मांगों पर उचित कार्यवाही करने का आश्वासन दिया था, लेकिन अभी तक इस दिशा में कोई कदम नहीं उठाया गया है। जिन कर्मचारियों का रिन्युअल नहीं हुआ है वे सभी मार्च माह से अभी तक बिना मानदेय के ही अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन कर रहे हैं। ऐसे में कर्मचारियों के सामने आर्थिक संकट भी गहरा गया है। कर्मचारियों ने जल्द रिन्युअल की प्रक्रिया शुरु करने की मांग की है, जिससे कि सभी को समय पर मानदेय मिल सके। सांकेतिक विरोध करने वालों में डा. अमित कटियार, निधि पाहवा, डा. अमित अग्रवाल, डा. कंचन रावत, डा. पूनम बद्री, डा. साबरा खातून आदि शामिल रहे।

संबंधित खबरें