DA Image
4 अप्रैल, 2020|5:06|IST

अगली स्टोरी

धरना स्थल पर ही मनाया भोजनमाताओं ने महा शिवरात्रि पर्व

default image

राज्य सरकार की बुद्धि शुद्धि के लिए की प्रार्थनामांगों की अनदेखी करने का आरोप लगाया विकासनगर। हमारे संवाददातामानदेय वृद्धि सहित चार सूत्रीय मांगों को लेकर पिछले 51 दिनों से बीईओ कार्यालय में धरने पर बैठी भोजनमाताओं ने महाशिवरात्रि का पर्व भी धरना स्थल पर मनाया। उन्होंने धरना स्थल पर पूजा-अर्चना कर सरकार की बुद्धि शुद्धि के लिए प्रार्थना की। भोजनमाता संगठन की प्रदेश अध्यक्ष उषा देवी और प्रदेश महामंत्री बिट्टो देवी ने कहा कि सरकार की उपेक्षा के कारण उन्हें पर्व भी अपने परिवार से दूर रहकर मनाने पड़ रहे हैं। कहा कि हठधर्मिता के कारण सरकार की बुद्धि भ्रष्ट हो चुकी है। लिहाजा सरकार की बुद्धि शुद्धि के लिए भोलेनाथ से प्रार्थना की गई। कहा कि इससे पूर्व बसंत पंचमी का त्यौहार भी भोजनमाताओं ने अपने परिवार से दूर रहकर धरना स्थल पर ही मनाया था। बावजूद इसके सरकार उनकी समस्याओं को नहीं सुन रही है। उन्होंने आरोप लगाया उनकी संख्या कम होने के कारण जनप्रतिनिधियों को उनमें अपना वोट बैंक नहीं दिखाई दे रहा है, जिसके चलते जनप्रतिनिधि और सरकार उनकी उपेक्षा कर रही है। धरना देने वालों में ममता, अनीता, रेखा, कुसुम, सुनीता, निर्मला खत्री, लीला, सुमन, रविता, माधुरी तोमर, सिंधु गुप्ता, सुमन मिश्रा, कमलेश, शहनाज, दीपा थापा, इंद्रा, वीरो देवी, बबीता, बिरमा, मीना, उमा पाल, आनंदी, सरला, मंजू, रुकैया, लक्ष्मी, प्रभा, शांति आदि शामिल रहे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Maha Shivratri festival celebrated by food-makers at the strike site