DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हाइड्रो प्रोजेक्ट के श्रमिकों ने किया प्रदर्शन

ताव्यासी हाइड्रो प्रोजेक्ट साइड हथियारी में कार्यरत संविदा श्रमिक संघ ने अपनी 27 सूत्रीय मांगों को लेकर आंदोलन तेज कर दिया है। बार-बार आंदोलन के बावजूद, मांगों पर सुनवाई न होने से गुस्साए श्रमिकों ने बुधवार को जुड्डों में प्रदर्शन किया। इतना ही नहीं, उन्होंने जल्द मांगें पूरी न होने पर एक जून से कार्यबहिष्कार का अल्टीमेटम दिया है। संविदा श्रमिक संघ उत्तराखंड (सीटू) के बैनर तले बुधवार सुबह श्रमिकों ने गैमन इंडिया कम्पनी के खिलाफ प्रदर्शन किया। श्रमिकों ने कम्पनी प्रबंधन पर मनमानी व अनदेखी का आरोप लगाया। कहा कि कम्पनी के साथ प्रदेश सरकार भी श्रमिकों की अनदेखी कर रही है। जल विद्युत निगम के अधिकारियों सहित श्रम विभाग और तहसील प्रशासन को कई बार मांगपत्र सौंपे जाने के बावजूद, श्रमिकों की मांगों पर कोई कार्रवाई नहीं हो पाई। इतना ही नहीं, श्रमिकों की अधिकारियों से वार्ता में मिले आश्वासन पर भी कोई सकारात्मक कार्रवाई नहीं हुई है। जिससे श्रमिक अपने आप को ठगा सा महसूस कर रहे हैं। उन्होंने मेडिलक एलाउन्स, शिफ्ट बस, सेफ्टी उपकरण, सर्विस टैक्स और ईपीएफ का निस्तारण करने, सिक्योरिटी धनराशि अवमुक्त करने, प्रतिमाह एमबी अपडेट करने, श्रमिकों के आवासों का किराया भुगतान कराने सहित 27 सूत्रीय मांगों पर जल्द कार्रवाई की मांग की। कहा कि यदि जल्द सरकार ने उनकी मांगों पर कार्रवाई नहीं की, तो श्रमिक एक जून से कार्य बहिष्कार करेंगे। प्रदर्शन में राजेन्द्र सिंह तोमर, प्रताप तामर, दिनेश तोमर, विजय चौहान, बलवंत रावत, चैन सिंह, कमलेश तोमर, शेर सिंह तोमर, राजपाल, संजीव रावत, संजय चौहान, केदार सिंह, प्रदीप उनियाल, शेर सिंह आदि श्रमिक शामिल रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Hydro project workers performed