DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आश्वासन के बाद कर्मचारी की भूख हड़ताल समाप्त

आश्वासन के बाद कर्मचारी की भूख हड़ताल समाप्त

अपने निलंबन को वापस लेने की मांग को लेकर नगर पालिका कार्यालय परिसर में भूख हड़ताल पर बैठे चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी ने तीसरे दिन हड़ताल को समाप्त कर दिया है। तहसीलदार व पालिका के अधिशासी अधिकारी और नगर पालिका के पूर्व अध्यक्ष ने कर्मचारी को आश्वासन दिया कि सभी चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों की रोटेशन पर एक एक माह के लिए रात की ड्यूटी लगायी जायेगी। जिस पर भूख हड़ताल पर बैठे नगर पालिका कर्मचारी ने सहमति जताई। पूर्व पालिका अध्यक्ष व तहसीलदार ने कर्मचारी को जूस पिलाकर हड़ताल समाप्त करवाई।नगर पालिका विकासनगर में तैनात चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी सोनू शनिवार से भूख हड़ताल शुरू की। सोनू ने रात्रि ड्यूटी करने से इंकार कर दिया था। सोनू का कहना है कि पालिका में चौकीदार के पद पर कर्मचारी तैनात है ऐसे में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी से रात की ड्यूटी नहीं करायी जा सकती। जिस पर अधिशासी अधिकारी बीएल आर्य ने सोनू को निलंबित कर दिया। अपने निलंबन को वापस लेने की मांग को लेकर सोनू तीसरे दिन भी भूख हड़ताल पर रहा। देर सांय नगर पालिका के पूर्व अध्यक्ष नीरज अग्रवाल की पहल पर तहसीलदार विकासनगर प्रकाश शाह व अधिशासी अधिकारी बीएल आर्य के बीच समझौता वार्ता हुई। जिसमें तय हुआ कि सभी चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी रोटेशन के आधार पर एक एक महिना रात्री चौकीदारी की ड्यूटी करेंगे। जिस पर सोनू ने सहमति जताई। जिसके बाद नगर पालिका के पूर्व अध्यक्ष नीरज अग्रवाल, तहसीलदार प्रकाश शाह ने सोनू को जूश पिलाकर हड़ताल समाप्त करवाई। अधिशासी अधिकारी बीएल आर्य ने कहा कि सोनू यदि ड्यूटी करने को तैयार है तो उसका निलंबन वापस ले लिया जायेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: Employee's hunger strike ends after assurancee