ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तराखंड विकासनगरमूल मंदिर सिमोग में विराजमान हुईं देव पालकियां

मूल मंदिर सिमोग में विराजमान हुईं देव पालकियां

एक रात के लिए क्यारी गांव में प्रवास पर गई शिलगुर, बिजट और चूड़ेश्वर महाराज की देव पालकियां 120 किमी की पैदल यात्रा कर रविवार को अपने मूल मंदिर...

मूल मंदिर सिमोग में विराजमान हुईं देव पालकियां
हिन्दुस्तान टीम,विकासनगरMon, 27 May 2024 06:15 PM
ऐप पर पढ़ें

एक रात के लिए क्यारी गांव में प्रवास पर गई शिलगुर, बिजट और चूड़ेश्वर महाराज की देव पालकियां 120 किमी की पैदल यात्रा कर रविवार को अपने मूल मंदिर सिमोग पहुंची। दोपहर बाद देव पालकियों के मूल मंदिर में पहुंचने पर विधि विधान से पूजा अर्चना कर गर्भ गृह में विराजमान किया गया।
बॉलीवुड गायक जुबिन नौटियाल ने अपने दादा-दादी की मनोकामना पूरी होने पर बीते सप्ताह शुक्रवार को देव पालकियों को एक रात के प्रवास के लिए अपने पैतृक गांव क्यारी आमंत्रित किया था। शनिवार को तीनों देवता क्यारी गांव पहुंचे थे। एक रात प्रवास के बाद रविवार को देव पालकियों ने मूल मंदिर के लिए प्रस्थान किया। रविवार साहिया में रात्रि प्रवास के बाद सोमवार को पुजारी, देव माली, बजीर, भंडारी, बाजगी समेत सैकड़ों श्रद्धालुओं ने देव पालकियों को अपने कंधों पर उठाकर मूल स्थान सिमोग पहुंचाया। जिसके बाद देवता को पूजा-अर्चना कर विधिवत मंदिर में विराजमान किया। यात्रा में प्रेम दत्त शर्मा, श्रीचंद शर्मा, पुजारी संदीप शर्मा, नारायण दत्त शर्मा, रमेश शर्मा, कुंवर दत्त शर्मा आदि शामिल रहे।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।