DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चकराता को अलग जिला बनाने की मांग

चकराता को अलग जिला बनाने की मांग

जौनसार बावर की बैठक में क्षेत्र की विभिन्न समस्याओं को दूर करने के लिए विचार विमर्श किया गया। क्षेत्र के विकास के लिए ठोस रणनीति बनाने पर जोर दिया गया। बैठक में विभिन्न प्रस्ताव भी पारित किए गए। इसमें चकराता को अलग जिला बनाने सहित पांच सूत्री मांग पत्र बनाकर मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजा गया।जौनसार बावर एकता मंच की शुक्रवार को हुई बैठक में क्षेत्र की विभिन्न समस्याओं को लेकर चर्चा की गई। इसमें क्षेत्र के विकास को लेकर ठोस पहल पर जोर दिया गया। बैठक में वक्ताओं ने कहा कि जौनसार बावर क्षेत्र की अनेक समस्याएं हैं। इनका निस्तारण किया जाना जरूरी है। तय किया कि जौनसार बावर की विषम भोगोलिक परिस्थितियां हैं। उनका देहरादून जैसे मैदानी क्षेत्र के साथ मिलकर समाधान नहीं किया जा सकता है। जिसके लिए पूरे जौनसार बावर क्षेत्र के लिए अलग जिला चकराता के नाम से बनाना आवश्यक है। बैठक में क्षेत्र के विकास के लिए विभिन्न प्रस्ताव पारित किए गए। बैठक में मुख्यमंत्री से तत्काल पांचों मांगों के निस्तारण की मांग की गई। बैठक में गजेंद्र सिंह तोमर, वृजेश जोशी, विनोद, धमदत्त भट्ट, कलम वर्मा, भगतू, शमशेर सिंह, अतरसिंह, भूपाल सिंह तोमर, रूपराम राठौर,सियाराम, रूपराम, भरत सिंह, शूरवीर सिंह, ऋषि, गंगासिंह नेगी, प्रेमसिंह नेगी, सूरतसिंह तोमर, महावीर सिंह, विनेश चौहान, सुंदरसिंह राठौर आदि शामिल रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Demand to make Chakrata a separate district