DA Image
17 सितम्बर, 2020|3:55|IST

अगली स्टोरी

आशाओं का पोलियो अभियान में भाग लेने से इंकार

default image

कोरोना संक्रमण काल में पल्स पोलियो अभियान के तहत ड्यूटी लगाए जाने का आशा कार्याकर्ताओं और आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने विरोध किया है। गुरुवार को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पश्चिमीवाला में एकत्र हुई आशा कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन कर पल्स पोलियो अभियान में भाग लेने से इंकार कर दिया। प्रदर्शनकारी आशा कार्यकर्ताओं ने कहा कि एक ओर कोरोना संक्रमण को समाज में फैलने से रोकने के लिए स्वास्थ्य विभाग अनावश्यक तौर पर घर से बाहर नहीं निकलने और अधिक लोगों के संपर्क में नहीं आने की सलाह दे रहा है। वहीं, दूसरी ओर उनकी ड्यूटी पल्स पोलियो अभियान के तहत लगाई जा रही है। इस अभियान के तहत उन्हें घर-घर जाकर बच्चों को पोलियो ड्रॉप पिलानी पड़ेगी। कहा कि पछुवादून क्षेत्र में बढ़ रहे कोरोना संक्रमण को देखते हुए एक दिन में कई घरों में जाकर बच्चों को पोलियो ड्रॉप पिलाने से संक्रमण फैलने का खतरा बढ़ सकता है। इससे बच्चों को भी खतरा पैदा हो सकता है। कहा कि इन दिनों पोलियो ड्रॉप पिलाने के लिए दूसरों के घरों में जाने से सभी को खतरा पैदा हो सकता है। सरकार ने कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए सभी शिक्षण संस्थान बंद रखने का फैसला लिया है। ऐसे में स्वास्थ्य विभाग की ओर से पल्स पोलियो अभियान शुरू करना भी उचित नहीं है। प्रदर्शनकारी कार्याकर्ताओं ने विभाग की ओर से शुरू किए जा रहे पल्स पोलियो अभियान में शामिल होने से इंकार किया है। प्रदर्शन करने वालो में शमीम, रीना, किरन, पूनम, सुनीता, सविता, पूनम तोमर, सोमवती, सिया, बालेशा, सरिता, निर्मला, बबीता, उमा देवी आदि शामिल रहे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Asha refuses to participate in polio campaign