World s famous Gangotri Dham kapat for winter - शीतकाल के लिए बंद हुए विश्व प्रसिद्ध गंगोत्री धाम के कपाट DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शीतकाल के लिए बंद हुए विश्व प्रसिद्ध गंगोत्री धाम के कपाट

विश्व प्रसिद्ध गंगोत्री धाम के कपाट आज अन्नकूट के शुभ अवसर 12.30 बजे शीतकाल के लिए बंद कर दिए गए। जिसके बाद अब देश-विदेश के श्रद्धालु मां गंगा के शीतकालीन प्रवास मुखीमठ (मुखबा) में उनके दर्शन कर सकेंगे। वहीं यमुनोत्री धाम के कपाट नौ नवंबर को बंद होंगे।

गुरुवार को गंगोत्री धाम के कपाट बंद करने की तैयारी सुबह से ही शुरू हो गई थी। गंगोत्री मंदिर समिति के अध्यक्ष सुरेश सेमवाल ने बताया कि अन्नकूट पर्व के अवसर पर सुबह 10.30 बजे मां गंगा का मुकुट उतारा गया, और मां गंगा की मूर्ति के निर्वाण दर्शन शुरू हुए। इसके बाद मंदिर परिसर में हवन व गंगा लहरी की आरती की गई। फिर वेदपाठियों और तीर्थ पुरोहितों ने वैदिक मंत्रोचारण के साथ मां गंगा की मूर्ति को डोली में विराजमान कर मंदिर से बाहर निकला। जिसके बाद ठीक 12.30 बजे गंगोत्री मंदिर के कपाट श्रद्धालुओं के लिए बंद कर दिए गए। इसके पश्चात आर्मी बैंड की धुन एवं सैंकड़ों श्रद्धालुओं की अगवाई में दोपहर एक बजे मां गंगा की डोली मुखबा के लिए रवाना हुई। डोली रात्रि विश्राम के लिए मुखबा के निकट चंडी मंदिर पहुंचेगी। भैयादूज के अवसर पर गंगा की डोली अपने शीतकालीन पड़ाव मुखवा स्थित गंगा मंदिर में विराजमान की जाएगी। जहां आगामी छह माह के लिए स्थानीय एवं देश विदेश के श्रद्धालु अगले छह माह तक मां गंगा के दर्शन व पूजा अर्चना कर सकेंगे।

इस मौके पर गंगोत्री विधायक गोपाल सिंह रावत, पूर्व विधायक विजयपाल सिंह सजवाण, जिलाधिकारी डा. आशीष चौहान, मंदिर समिति के अध्यक्ष सुरेश सेमवाल, सचिव दीपक सेमवाल, भटवाड़ी ब्लॉक प्रमुख चंदन पंवार, राजेश सेमवाल, अरूण सेमवाल, पवन सेमवाल सहित सैंकड़ों श्रद्धालु मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: World s famous Gangotri Dham kapat for winter