DA Image
3 दिसंबर, 2020|5:36|IST

अगली स्टोरी

कार्यशाला में थानाध्यक्षों को दी विभिन्न जानकारी

default image

सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण दुर्गा शर्मा द्वारा प्री-अरेस्ट, अरेस्ट एवं रिमाण्ड स्टेज में गिरफ्तार व्यक्ति को विधिक सहायता देने हेतु जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा मंगलवार को जनपद के सभी थानो के थानाध्यक्षों, उपनिरीक्षक एवं जांच एजंसियों हेतु एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयेानज किया गया। जिसमें सभी को प्री-अरेस्ट, अरेस्ट, रिमांड स्टेज अदि फ्रेमवर्क, प्रोटोकॉल के क्रियान्वयन हेतु जानकारी दी गई।

जिला जज बैठक कक्ष में ‘समान मानवाधिकार पहल ‘वेबसाइट से ब्राउजर डाउनलोड कर एवं प्री-अरेस्ट, अरेस्ट, रिमांड स्टेज की गाइडलाइन तथा थानो में तैनात पीएलवी एवं पैनल अधिवक्ताओं को ड्यूटी रोस्टर की प्रतिलिपियां पुलिस अधिकारी को वितरित की गयी। उक्त प्रशिक्षण में उपस्थित पुलिस अधिकारियों को याचिकाओं से सम्बंधित जानकारी दी गयी।

कार्यक्रम में पुलिस उपाधीक्षक बड़कोट अनुज, थाना निरीक्षक मोरी केएस चौहान, उपनिरीक्षक नवीन, उपनिरीक्षक भगवान सिंह, पुलिस उपनिरीक्षक देवेन्द्र प्रसाद, रमन बिष्ट, उपनिरीक्षक सतीश , उपनिरीक्षक विनोद पंवार, कांतिराम तथा प्राधिकरण से जीत सिहं नाथ, नवल नीत,शिल्पी, मुकेश आदि मौजूद थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Various information given to the station heads in the workshop