ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तराखंड उत्तरकाशीमोरी में पैर फिसलने से भेड़ पालक की मौत

मोरी में पैर फिसलने से भेड़ पालक की मौत

मोरी, संवाददाता। गोविदं वन्य जीव विहार नेशनल पार्क के अंतर्गत खूनीगाड़ के जंगलों में दो दिन से लापता भेड़क पालक मृत हालत में मिला। बताया जा रहा है...

मोरी में पैर फिसलने से भेड़ पालक की मौत
हिन्दुस्तान टीम,उत्तरकाशीSat, 24 Feb 2024 03:45 PM
ऐप पर पढ़ें

गोविंद वन्य जीव विहार नेशनल पार्क के अंतर्गत खूनीगाड़ के जंगलों में दो दिन से लापता भेड़ पालक मृत हालत में मिला। बताया जा रहा है कि पैर फिसलने से भेड़ पालक की मौत हुई।
मोरी के गोविंद वन्य जीव विहार राष्ट्रीय पार्क क्षेत्र में हिमाचल प्रदेश से लगे डोडरा क्वार क्षेत्र के नजदीक सेवा गांव की भेड़ बकरियां इन दिनों चारा चुगान के लिए खूनीगाड़ के जंगलों में है। सेवा गांव के जला लाल ने बताया कि भेड़ पालक बिजेंद्र लाल पुत्र झांजा राम 35 वर्ष निवासी सेवा मोरी दो दिन से लापता चल रहा था। जिसकी सूचना मोरी पुलिस को दी गई। पुलिस, एसडीआरएफ व ग्रामीणों ने खूनीगाड़ के जंगलों में खोजबीन की। खोजबीन के दौरान भेड़ पालक जंगल के एक गदेरे में पानी में डूबा हुआ मृतक मिला। सेवा गांव के ग्रामीण जला लाल ने बताया कि भेड़ पालक का पैर फिसलने के कारण पानी में डूब कर मौत हुई है। बता दें कि मोरी विकास खण्ड की भेड़ बकरियां आज कल हिमपात होने के कारण चारा चुगान के लिए निचले हिस्से में आती है। जहां बर्फबारी न हो।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें