DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

करोड़ों खर्चने के बाद भी बार्सू सड़क में सुधार नहीं

यह मार्ग वर्ष 2013 में आपदा से जगह-जगह क्षतिग्रस्त हो गया था। कई साल तक इसके सुधारीकरण का काम लटका पड़ा रहा। मगर, बाद में इसे लोनिवि विश्व बैंक शाखा के सुपुर्द कर दिया गया। इसके बाद सुधारीकरण के नाम पर करोड़ों रुपये खर्च हुए, पर फिर भी इसकी स्थिति में सुधार नहीं हुआ। लोनिवि की ओर से इसका डामकरीकरण भी किया गया, लेकिन घटिया सामग्री इस्तेमाल करने से यह छह माह में ही उखड़ गया। लोगों ने इसके निर्माण की उच्चस्तरीय जांच की मांग उठाई है। वहीं, लोनिवि विश्व बैंक के ईई रमेश आर्य का कहना है कि सड़क को सही रखने की जिम्मेदारी दो साल तक ठेकेदार की है। संबंधित ठेकेदार को शीघ्र ही इस सड़क को ठीक करने के निर्देश दिए गए हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:road in uttarkashi