DA Image
30 मई, 2020|1:53|IST

अगली स्टोरी

पोषण मेले में गहथ का हलवा, टिक्की और मंडवे का डोसा परोसा

default image

जिलाधिकारी डा. आशीष चौहान की अभिनव पहल के तहत पारंपरिक कृषि उत्पादों का विविधीकरण कर रोजगार के नए आयाम की शुरुआत हुई है। गणतंत्र दिवस के अवसर पर रिवरफ्रंट पार्क ज्ञानसू में बाल विकास विभाग, आजीविका व एनआरएलएम के सहयोग से पोषण मेला का आयोजन किया गया। जिसमें परंपरागत कृषि उत्पादों का विविधीकरण के माध्यम से विभिन्न प्रकार के व्यंजन बनाए गए।

डीएम डा.आशीष चौहान ने कहा कि परंपरागत कृषि उत्पादों का विविधिकरण कर गहथ का हलवा, टिक्की, मंडुआ-गहथ की कचोरी, झंगोरे का हलवा, रेड राइस का उत्पम, मंडवा का डोसा, समोसा, असका, बड़ी चाट खटाई आदि पकवान बनाए गए हैं। उन्होंने कहा कि पौष्टिक पारंपरिक कृषि उत्पादों को बढ़ावा देने व किसानों को उचित दाम दिलाने हेतु बाजार मुहैया कराना है। ताकि किसानों की आर्थिक स्थिति को मजबूत किया जा सके। जिलाधिकारी ने कहा कि आगामी यात्रा सीजन में यह व्यंजन किसानों के रोजगार के साधन के रूप में अवसर पैदा करेगा। निश्चित ही राष्ट्रीय और अंतराष्ट्रीय स्तर पर जनपद के पारंपरिक कृषि उत्पाद को बढ़ावा मिलेगा। पोषण मेले में छोटे-छोटे बच्चों सहित तमाम लोगों ने पारंपारिक उत्पाद से बने व्यंजनों का लुत्फ उठाया। इस मौके पर नगर पालिका अध्यक्ष रमेश सेमवाल, पुलिस अधीक्षक पंकज मुख्य विकास अधिकारी पीसी डंडरियाल, अपर जिलाधिकारी तीर्थपाल सिंह, एसडीएम आकाश जोशी, जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी वीरेंद्र पूरी, जिला कार्यक्रम अधिकारी विक्रम सिंह आदि मौजूद थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Gahath pudding tikkis and mandwa dosa served at the nutrition fair