DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तराखंड  ›  उत्तरकाशी  ›  क्षेत्र के किसानों को फसल बीमा न मिलने से नाराज
उत्तरकाशी

क्षेत्र के किसानों को फसल बीमा न मिलने से नाराज

हिन्दुस्तान टीम,उत्तरकाशीPublished By: Newswrap
Thu, 17 Jun 2021 03:00 PM
क्षेत्र के किसानों को फसल बीमा न मिलने से नाराज

रवांई घाटी के पुरोला क्षेत्र के किसानों को रबी की फसल का बीमा न मिलने पर किसानों ने नाराजगी जताई। उन्होंने ओलावृष्टि से फसलों को नुकसान पंहुचने से फसली बीमा की राशि मुहैया करवाने की मांग की।

गौरतलब है कि रवांई घाटी के रामा सिराईं व कमल सिराईं के दर्जनों गांवों में किसान पारंपरिक खेतीबाड़ी के साथ साथ नगदी फसलों में मटर, टमाटर,आलू, बीन, गोभी, शिमलामिर्च आदि सब्जियों का उत्पादन तो करते ही हैं। इसी के साथ बागवानी में सेब, पुलम, नाशपाती, आड़ू, खुमानी आदि फलों के उत्पादन के लिए भी देश व प्रदेश में अग्रणी हैं। पिछले कुछ वर्षों से क्षेत्र में सभी फसलें कभी सूखे की चपेट में आ रही हैं तो कभी ओलावृष्टि व भारी वर्षा की चपेट में आकर किसानों व बागवानों को खासी मायूसी झेलनी पड़ रही है। वहीं किसान पिछले कई वर्षों से कृषि श्रऋ माफ करने की मांग करते आ रहे हैं। कमल घाटी किसान फेडरेशन के अध्यक्ष बिजेंद्र सिंह राणा व किसान संगठन के श्यालिक राम नौटियाल, धनवीर सिंह, प्रकाश डबराल आदि ने कहा कि बैंकों व समितियों से कृषि ऋण लेने पर हर वर्ष फसली बीमा की राशि हमारे जेब से भरी जाती है, लेकिन फसलों को नुकसान होने पर कभी बीमा नहीं मिलता और कभी मिलता भी है तो केवल 2 या 3 प्रतिशत ही मिलता है। जबकि लिए गए ऋण का 5 प्रतिशत बीमा राशि हर वर्ष जमा की जाती है जो किसानों के साथ एक बड़ा धोखा है। उन्होंने सरकार से समय पर फसल की उत्पादकता व नुकसान के अनुरूप मुआवजा व उचित फसली बीमा देने की मांग की।

संबंधित खबरें