Company giving insurance to the deceased's husband seven lac - मृतका के पति को सात लाख का बीमा दे कंपनी DA Image
16 दिसंबर, 2019|7:23|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मृतका के पति को सात लाख का बीमा दे कंपनी

जिला उपभोक्ता फोरम नई टिहरी ने एसबीआई लाइफ इंश्योरेंस कंपनी को नवागर सारज्यूला निवासी स्व. सुमित्रा देवी के पति धर्मानंद शर्मा को सात लाख रुपये बीमा राशि देने के आदेश दिया है। इसके साथ ही शारीरिक और मानसिक क्षति पहुंचाने तथा वाद व्यय का भी दो हजार रुपये देने का आदेश दिया। नवागर सारज्यूला निवासी सुमित्रा देवी ने 20 मार्च 2014 को चंबा एसबीआई में कार्यरत एजेंट मुकेश कोठारी से स्मार्ट इलीफ प्लान गोल्ड पॉलिसी के तहत बीमा करवाया था। इसमें बीमाधारक की सामान्य मृत्यु पर दस लाख तथा दुर्घटना मृत्यु पर बीस लाख रुपये का बीमा था। सुमित्री देवी ने इसमें पति को नामित किया था। बीमा की दो किस्त के रूप में तीन लाख रुपये भी जमा कर दिए थे, लेकिन 15 अप्रैल 2015 को सुमित्रा देवी की मृत्यु हो गई थी। मृतका के पति धर्मानदं शर्मा ने कंपनी से बीमा की धनराशि देने की मांग, लेकिन कंपनी ने बीमा देने से इंकार दिया था। कंपनी कहना था कि सुमित्रा देवी की सर्विस में और बीमा प्रपोजल में जो आयु दी गई वह साबित नहीं हो रही है। तब धर्मानंद शर्मा ने जिला उपभोक्ता फोरम में वाद दायर किया। फोरम की सदस्य विजयलक्ष्मी थलवाल ने बताया कि फोरम ने कंपनी के दोनों आधार खारिज कर दिए हैं। फोरम ने एसबीआई बीमा कंपनी के मंडलीय प्रबंधक को मृतका के पति को बैंक की प्रचलित साधारण ब्याज सहित सात लाख रुपये का बीमा देने का आदेश दिया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Company giving insurance to the deceased's husband seven lac