DA Image
22 सितम्बर, 2020|7:31|IST

अगली स्टोरी

कृषि सहायकों ने की मानदेय बढ़ाने की मांग

default image

कृषि सहायकों ने मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत को ज्ञापन भेजकर मानदेय बढ़ाने की मांग की है। कृषि सहायकों का कहना है कि 2015 से कार्यरत कृषि सहायकों के लिए विभागीय संविदा की कोई व्यवस्था नहीं है। शासनस्तर पर कृषि सहायकों को लेकर नियमावली बनायी जाय। कृषि सहायकों के प्रदेश अध्यक्ष कुशला सेमवाल ने टिहरी डीएम मंगेश घिल्डियाल के माध्यम से सीएम को ज्ञापन भेजकर मांग की है कि उनका मानदेय बढ़कार 15 हजार किया जाय। कृषि सहायक प्रदेश की 670 न्याय पंचायतों में बहुत कम मानदेय पर लगातार काम कर रहे हैं। लेकिन मानदेय इतना कम है कि उसमें परिवार की आजीविका चलानी संभव नहीं है। सरकार की ओर से कोई नियमावली भी कृषि सहायकों को लेकर नहीं है। उन्हें वर्तमान में मात्र 6 हजार रूपये मानदेय दिया जाता है। काफी पहले यह मात्र 2500 था। जिसे कांग्रेस के शासन काल में मानदेय को बढ़ाकर 6 हजार किया गया। भाजपा के तीन साल शासन के पूरे होने को हैं, लेकिन कृषि सहायकों का मानदेय नहीं बढ़ाया गया है। प्रदेश के समस्त कृषि सहायक मानदेय 15 हजार करने के साथ ही विभागीय संविदा व नियमावली बनाने की मांग कर रहे हैं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Agricultural assistants demand to increase honorarium