DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तराखंड › यमुनोत्री:पैदल मार्ग पर यात्रा किराया नहीं फाइनल, तीर्थ यात्री हो रहे परेशान
उत्तराखंड

यमुनोत्री:पैदल मार्ग पर यात्रा किराया नहीं फाइनल, तीर्थ यात्री हो रहे परेशान

हिन्दुस्तान टीम, उत्तरकाशी Published By: Himanshu Kumar Lall
Wed, 22 Sep 2021 01:48 PM
यमुनोत्री:पैदल मार्ग पर यात्रा किराया नहीं फाइनल, तीर्थ यात्री हो रहे परेशान

चारधाम यात्रा के प्रथम पड़ाव यमुनोत्री धाम के पैदल मार्ग पर जिला पंचायत उत्तरकाशी ही जल्द  मार्ग पर चलने वाले डंडी कंडी व घोडे खच्चरों का शुल्क तय करेगी। समय पर यात्रा सुचारू न होने के कारण वर्तमान समय में  घोड़े व डंडी कंडी का संचालन का  शुल्क संचालकों ने स्वयं ही तय किया है। प्रदेश में चारधाम यात्रा को प्ररांभ हुए चार दिन हो गए हैं। लेकिन यमुनोत्री पैदल मार्ग पर  जिला पंचायत ने डंडी कंडी तथा घोड़े संचालन की व्यवस्था अपने हाथ में नही ली है।

यात्रा देर से प्ररांभ होने के कारण जिला पंचायत की ओर से शुल्क भी तय नहीं किया गया है। जबकि यह पूरी व्यवस्था जिला पंचायत प्रशासन की होती है। जिला प्रशासन की ओर से तय शुल्क पर ही घोड़े व डंडी कंडी संचालक तीर्थ यात्रियों से पैंसा लेते हैं। पूर्व में जिला पंचायत टेंडर प्रकिया से यमुनोत्री पैदल मार्ग पर घोड़े व डंडी का संचालन करता था। इस बार टेंडर प्रक्रिया के बजाय स्वयं ही इनका संचालन करेगा।

यात्रा के लिए कम समय रहने के कारण इस वर्ष जिला पंचायत स्वयं ही डंडी कंडी संचालित करेगा। जिसके लिए कार्यवाही गतिमान है। जल्द ही शुल्क निर्धारित कर यह व्यवस्था सुचारू कर दी जायेगी। 
संजय सिंह, एएमए, जिला पंचायत 

घोड़े व डंडी कंडी का शुल्क निर्धारण की फाइल जिलाधिकारी कार्यालय को भेज दी गई है। जल्द ही यमुनोत्री पैदल मार्ग पर घोड़े व डंडी कंडी के संचालन की व्यवस्था जिला पंचायत  शुरू करेगी। 
चंदन सिंह, यात्रा प्रभारी/कर अधिकारी जिला पंचायत उत्तरकाशी

संबंधित खबरें