DA Image
21 नवंबर, 2020|9:48|IST

अगली स्टोरी

मौसम: उत्तराखंड के पर्वतीय जिलों में 22 से बदलेगा मौसम, बारिश और बर्फबारी का अलर्ट

rainfall is not coming due to weak monsoon in bhagalpur

उत्तराखंड के पर्वतीय जिलों में रविवार से फिर मौसम में बदलाव होने की संभावना है। चार से पांच जिलों में अगले चार-पांच दिनों तक बारिश और बर्फबारी की आशंका है। जबकि मैदानी क्षेत्रों में सूखी ठंड में बढ़ोतरी हो सकती है। नवंबर महीने में अभी तक प्रदेश में अधिकांश जगह सूखी ठंड पड़ रही है।

हालांकि दीपावली के बाद एक-दो दिन केदारनाथ, बदरीनाथ की तरह अन्य ऊंचे इलाकों में बर्फबारी हुई। जबकि बाकी इलाकों में बारिश हुई। मगर इसके बाद से मौसम शुष्क बना हुआ है। मौसम विभाग की मानें तो 22 नवंबर से प्रदेशभर में मौसम में बदलाव की संभावना है।

मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह के अनुसार, 22 नवंबर को उत्तरकाशी, चमोली और रुद्रप्रयाग जिलों में कहीं-कहीं विशेषकर ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बारिश या बर्फबारी हो सकती है।

वहीं 23 और 25 नवंबर को पिथौरागढ़, बागेश्वर, उत्तरकाशी, चमोली और रुद्रप्रयाग जिलों में कुछ स्थानों में बहुत हल्की बारिश या हिमपात होने की संभावना है। जबकि राज्य के शेष जिलों में मौसम शुष्क बना रहेगा।

24 नवंबर को चमोली, पिथौरागढ़, उत्तरकाशी और रुद्रप्रयाग जिलों में कहीं-कहीं विशेषकर ऊंचाई वाले क्षेत्रों में हल्की बारिश या बर्फबारी होने की संभावना है। 26 नवंबर के बाद भी अगले दो-तीन दिनों में मौसम में परिवर्तन के आसार कम हैं।

वहीं पर्वतीय क्षेत्रों में बर्फबारी और बारिश के कारण मैदानी क्षेत्रों व अन्य जिलों में भी ठंडी हवाएं चलने से ठंड बढ़ने की संभावना है। इससे दोपहर में मौसम में ठंडक भी बढ़ सकती है। 


मुनस्यारी में मौसम की पहली बर्फबारी, एक डिग्री पहुंचा न्यूनतम तापमान
पिथौरागढ़/मुनस्यारी। मुनस्यारी में मौसम की पहली बर्फबारी से तापमान में गिरावट दर्ज की गई। वहीं क्षेत्र के उच्च हिमालयी क्षेत्रों में सीजन का तीसरा हिमपात हुआ है। जिससे इलाके में कड़ाके की ठंड पड़ रही है। शनिवार को न्यूनतम तापमान एक डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। 

शनिवार सुबह से मुनस्यारी के उच्च हिमालयी क्षेत्रों पंचाचूली, राजरंभा, हसलिंग, नागनीधूरा में बर्फबारी होती रही। शाम को मुनस्यारी में भी मौसम का पहला हिमपात हुआ। खलिया, बलाती, कालामुनी सहित 2200 मीटर की ऊंचाई वाले क्षेत्र बर्फ की सफेद चादर से ढक गए।

वहीं जिला मुख्यालय सहित गंगोलीहाट, बेरीनाग, डीडीहाट, धारचूला सहित विभिन्न हिस्सों में सुबह से धूप और बादलों की आंखमिचौली चलती रही। उच्च हिमालयी क्षेत्रों में बर्फबारी व निचले इलाकों में बादल छाए रहने से तापमान में गिरावट दर्ज की गई। शनिवार को मुनस्यारी का अधिकतम तापमान 10 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

तीन डिग्री पहुंचा चम्पावत का न्यूनतम तापमान
चम्पावत। चम्पावत में शनिवार को बादल छाए रहने से ठंड बढ़ गई। ठंड से बचने के लिए लोगों ने जैकेट और स्वेटर आदि गर्म कपड़े निकाल लिए। शनिवार को चम्पावत में न्यूनतम तापमान तीन डिग्री और अधिकतम तापमान 15 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:weather department forecasts hilly districts to witness rainfall snowfall on november 22 rainfall uttarakhand munsiyari season first snowfall