ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तराखंडराष्ट्रपति की वजह से चौकसी का था दावा और हो गई सबसे बड़ी लूट, सवालों में घिरी देहरादून पुलिस

राष्ट्रपति की वजह से चौकसी का था दावा और हो गई सबसे बड़ी लूट, सवालों में घिरी देहरादून पुलिस

गुरुवार सुबह देहरादून के राजपुर रोड स्थित रिलायंस के ज्वेलरी शोरूम में कीमती आभूषणों को सजाने की तैयारी चल रही थी। तभी पांच लोग ग्राहक बनकर अंदर घुसे और गन प्वाइंट पर कर्मचारियों को बंधक बना लिया।

राष्ट्रपति की वजह से चौकसी का था दावा और हो गई सबसे बड़ी लूट, सवालों में घिरी देहरादून पुलिस
Swati Kumariलाइव हिंदुस्तान,देहरादूनThu, 09 Nov 2023 06:38 PM
ऐप पर पढ़ें

उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में बदमाशों ने दस मिनट के अंदर दस करोड़ की डकैती को अंजाम दिया। घटना के बाद से पूरे शहर में हड़कंप मचा हुआ है। राष्ट्रपति के दौरे के चलते पुलिस सुरक्षा व्यवस्था में लगी थी और इस बीच शहर में बदमाशों ने बड़ी डकैती की वारदात को अंजाम दिया। गुरुवार सुबह देहरादून के राजपुर रोड स्थित रिलायंस के ज्वेलरी शोरूम में कीमती आभूषणों को सजाने की तैयारी चल रही थी। तभी पांच लोग ग्राहक बनकर अंदर घुसे और गन प्वाइंट पर कर्मचारियों को बंधक बना लिया।

बदमाशों ने कर्मचारियों को पेंट्री में बंद किया। सभी के हाथ प्लास्टिक की रस्सी से बांध दिए। बदमाश यहां से करोड़ों रुपए के हीरे और सोने के जेवरात लूट कर ले गए। घटना सुबह की है और पुलिस को भी इसकी भनक काफी देर बाद लगी। 10 मिनट में लूट की घटना को अंजाम देकर बदमाश फरार हो गए। बदमाश कार में सवार होकर आए थे।

वहीं, दिनदहाड़े हुई इस घटना के जानकारी मिलते ही एसपी सिटी सहित भारी पुलिस बल मौके पर पहुंच गया। बदमाशों ने शातिराना अंदाज में शहर में वीवीआईपी ड्यूटी में पुलिस के व्यस्त होने का फायदा उठाते हुए लूट की वारदात को अंजाम दिया है। फिलहाल अब पुलिस मामले में तेजी से छानबीन कर रही है और शोरूम के CCTV की फुटेज खंगाल रही है। पुलिस ने जानकारी दी है कि बदमाश कार में सवार होकर लूट की वारदात करने पहुंचे थे।

इस दौरान बदमाशों ने मुंह छिपाने के लिए हेलमेट और नकाब पहने हुए थे। वहीं पुलिस का कहना है कि दिनदहाड़े लूट की वारदात को अंजाम देने वालों की धरपकड़ के लिए पुलिस नाकाबंदी करवा रही है। जानकारी के अनुसार बदमाशों ने बंदूक की नोंक पर मात्र 10 मिनट में रिलायंस ज्वेलर्स के शोरूम से लाखों की लूट की है। लूटी गई रकम कितनी है इसका पता लगाया जा रहा है। 
 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें