ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तराखंडउत्तरकाशी सुरंग हादसा: टनल को कर दिया सील, वजह करेगी हैरान

उत्तरकाशी सुरंग हादसा: टनल को कर दिया सील, वजह करेगी हैरान

निर्माणाधीन सिलक्यारा सुरंग के बाहर पुलिस और पीएससी का सख्त पहरासुरंग के ऊपर से किए सुराख को सील किया, ज्यादातर मशीनें लौटींउत्तरकाशी, संवाददाता। सिलक्यारा सुरंग में लगी मशीनें लौटने लगी हैं।

उत्तरकाशी सुरंग हादसा: टनल को कर दिया सील, वजह करेगी हैरान
Himanshu Kumar Lallदेहरादून, हिन्दुस्तानSun, 03 Dec 2023 02:59 PM
ऐप पर पढ़ें

निर्माणाधीन सिलक्यारा सुरंग के बाहर पुलिस और पीएससी का सख्त पहरासुरंग के ऊपर से किए सुराख को सील किया, ज्यादातर मशीनें लौटींउत्तरकाशी, संवाददाता। सिलक्यारा सुरंग में लगी मशीनें लौटने लगी हैं। सुरंग के ऊपर की जा रही वर्टिकल ड्रिलिंग भी रेस्क्यू ऑपरेशन सफल होने के चलते रोक दी गई थी। अब ऊपर से किए गए सुराख को भी कंक्रीट से सील कर दिया गया है।

सिलक्यारा सुरंग में 12 नवंबर को दीपावली पर्व के दिन भूधंसाव के बाद 41 श्रमिक अंदर फंस गए थे। 17 दिन तक रेस्क्यू ऑपरेशन चला। मजदूरों के सुरंग में फंसने पर शुरुआत में रेस्क्यू के कई योजनाओं पर काम हुआ। भारी भरकम मशीनों को एयरलिफ्ट और मालवाहक वाहनों में सिलक्यारा पहुंचाया गया। इसमें सुरंग के ऊपर पहाड़ी हिस्से पर ड्रिलिंग कर सुराख बनाने का विकल्प भी शामिल था।

इसके लिए सुरंग के ऊपर पहाड़ी तक पहुंचने के लिए डेढ़ किमी सड़क तैयार कर हैवी मशीनें पहुंचाई गई। सुरंग के ऊपर से करीब 45 मीटर तक सुराख हो गया था, जो 88 मीटर और होना था। अब सुराख को सील कर दिया गया है। मौके से लगभग 90 फीसदी उपकरण वापस भेजे जा चुके हैं। सुरंग परिसर में पुलिस कड़ा पहरा है।

पहाड़ में सुरंग आधारित परियोजनाओं पर रोक लगे
देहरादून। उत्तरकाशी के सिलक्यारा से लौटे सामाजिक कार्यकर्ता वेदिका वेद ने पहाड़ में सुरंग आधारित परियोजनाओं पर रोक लगाने की मांग की है। उन्होंने कहा कि हालांकि सुरंग में फंसे 41 मजदूरों को सकुशल बचाया गया है, लेकिन इस हादसे से सीख लेने की जरूरत है।

कहा कि यह हादसा इतिहास में दर्ज हो गया है, जिससे आपदा प्रबंधन को बड़ा सबक मिला है। कहा कि भविष्य में संवेदनशील प्रकृति को नुकसान पहुंचाने या समय की बचत के लिए सुरंग आधारित परियोजनाओं पर रोक लगानी होगी, क्योंकि पहाड़ में विस्फोटकों से बड़ा नुकसान हो रहा है।

पुलिस ने सुरंग में पानी के रिसाव के वीडियो को फेक बताया
सोशल मीडिया पर सुरंग के अंदर पानी के रिसाव का वीडियो वायरल हो रहा है। इसे सिलक्यारा का बताया जा रहा है। एसपी अर्पण यदुवंशी के मुताबिक, वीडियो फेक है, सिलक्यारा टनल में अभी इस प्रकार की कोई भी पानी का रिसाव संबंधी घटना नहीं हुई है।

पुलिस लगातार टनल के बाहर निगरानी पर मुस्तैद है। इस प्रकार की भ्रामकता फैलाकर शांति एवं कानून व्यवस्था को प्रभावित न करें। वीडियो वायरल करने वालों के विरुद्ध कठोर कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें