DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जवाब न देने वाले अफसरों पर होगी कार्रवाई : स्पीकर अग्रवाल

सदन में उठे सवालों का अफसरों की ओर से तय समय में जवाब न देने पर स्पीकर प्रेमचंद अग्रवाल ने नाराजगी जताई। स्पीकर ने नियम 300 की सूचनाओं पर अफसरों की ओर से एक माह में जवाब नहीं देने के मामलों में आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश दिए।  अग्रवाल ने कहा कि विधायक काजी निजामुद्दीन की ओर से ये मुद्दा उठाया गया था कि नियम 300 की सूचनाओं पर जवाब सही समय पर नहीं आ रहे हैं। एक महीना गुजर जाता है और जवाब का कहीं पता नहीं रहता। ऐसे में विलंब के लिए दोषी अफसरों के खिलाफ कार्रवाई की जाए। यह शिकायत सही मिली। सदस्य लगातार शिकायत कर रहे हैं। अफसर लगातार स्पीकर के आदेशों की भी अवहेलना कर रहे हैं। जबकि कई बार पीठ की ओर से ये आदेश दिए जा चुके हैं कि सभी प्रकरणों, सवालों का समय पर निर्धारित समय पर उत्तर दिया जाए। ऐसे में लापरवाही बरतने वाले अफसरों पर कार्रवाई की जाए। भविष्य में ये सुनिश्चित किया जाए कि सवालों के जवाब तय समय पर आएं। भविष्य में किसी भी तरह की लापरवाही पर सख्त कदम उठाया जाएगा।

प्रेमचंद ने मंत्री-विधायकों को भी सुनाई खरी-खरी
विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने सदन में अधूरी तैयारी के साथ आने वाले मंत्रियों और विधायकों को लेकर भी नाराजगी जताई। उन्होंने कहा कि न तो मंत्री तैयारी करके आ रहे हैं और विधायकों के हालात भी कुछ ऐसे ही हैं। अग्रवाल ने शुक्रवार को सत्र के दौरान कई विधायकों को टोका भी। उन्होंने बार-बार शेर-ओ-शायरी करने को लेकर देशराज कर्णवाल, सुरेंद्र सिंह जीना, राजेश शुक्ला और संजय गुप्ता को हिदायत दी। अध्यक्ष के तेवर से सहमे कर्णवाल ने शेर सुनाने ही बंद कर दिए।  

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:uttarakhand vidhan sabha speaker premchand aggarwal warns action against officers for answering queries during session