DA Image
4 अप्रैल, 2021|5:38|IST

अगली स्टोरी

उत्तराखंड में थमे रोडवेज बसों के पहिए, जगह-जगह यात्री फंसे 

उत्तराखंड में रोडवेज कर्मचारियों ने आज बुधवार को हड़ताल शुरू कर दी है। कर्मियों के हड़ताल पर चले जाने से प्रदेशभर में जगह-जगह यात्री फंस गए हैं। हड़ताल की जवह से सबसे ज्यादा पहाड़ी क्षेत्रों के यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। उत्तरांचल रोडवेज कर्मचारी यूनियन की ओर से वेतन भुगतान सहित सात सूत्री मांग को लेकर देहरादून मंडल में पांच दिन से हड़ताल की जा रही है। अब रोडवेज के सभी मंडलों ने भी हड़ताल शुरू कर दी है, जिससे यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।   

आंदोलनरत कर्मचारियों का कहना है  कि मांगों के निस्तारण के लिए कई बार प्रबंधन को ज्ञापन भी सौंपा जा चुका है लेकिन मांगों के निस्तारण के लिए कोई कार्रवाई नहीं हुई है। आक्रोशित कर्मचारियों ने  चिंता जताई है कि उन्हें पिछले पांच महीने से वेतन नहीं मिला है ऐसे में घर चलाना बहुत मुश्किल हो गया है। आक्रोशित कर्मचारी कार्य बहिष्कार को सफल बनाने में  जुटे हुए हैं और मंडल स्तर पर कर्मियों द्वारा प्रबंधन के खिलाफ नारेबाजी भी की जा रही है। कर्मचारियों ने चेतावनी दी है कि जबतक उनकी मांगों का निस्तारण नहीं होता तबतक आंदोलन जारी रहेगा। 

वहीं दूसरी ओर, हल्द्वानी में उत्तराँचल रोडवेज कर्मचारी यूनियन से जुड़े सदस्यों ने काठगोदाम डिपो में कार्यबहिष्कार कर डिपो परिसर में सांकेतिक प्रदर्शन किया। कर्मचारी 12 सूत्री मांगों को पिछले कई दिनों से अपनी मांग उठा रहे हैं। उधर रोडवेज प्रबंधन हड़ताल के चलते काम के प्रभावित नहीं होने की बात कह रहा है। बुधवार को एसीपी, ड्यूटी रेस्ट, समान कार्य समान वेतन सहित 12 मांग को लेकर यूनियन से जुड़े सदस्य सवेरे 6 बजे से डिपो परिसर में एकत्र  हुए और निगमप्रबन्धन के खिलाफ नारेबाजी कर अपना विरोध प्रकट किया।

इधर नैनीताल  परिक्षेत्र के काठगोदाम/रामनगर/रुद्रपुर/काशीपुर/भवाली/हलद्वानी/रानीखेत/अल्मोड़ा में कर्मचारियो ने प्रदर्शन कर अपना विरोध व्यक्त किया।जिससे बस सेवा आंशिक रूप से  प्रभावित रही।  प्रदेश अध्यक्ष कमल पपनै ने कहा कि कर्मचारी लंबे समय से अपनी मांगों को उठा रहे हैं लेकिन प्रबंधन अनसुनी कर रहा है। जिसके विरोध में आज कर्मचारियों ने हड़ताल शुरू कर दी है।

इस शाखा अध्यक्ष आनंद बिष्ट,शाखा मंत्री मनोज भट्ट, प्रदीप शर्मा, किशोरी लाल, शशिकांत गौतम, संदीप बिष्ट, सूरज कुमार, हेमंत गड़िया, राकेश कुमार, नीरज कन्याल, निर्मल जोशी, राजकुमार, बी सी भट्ट, हरपाल सिंह, कुलदीप शर्मा, सतीश गुप्ता, संजीव कुमार, आदित्य सिंह, अमानउल्लाह, दिनेश जोशी, वाई पी काम्टे, अजय श्रीवास्तव, भास्कर उपाध्याय, हरीश जोशी, नवीन लोहनी,  ललित प्रसाद , गिरीश पांडे , गुलाम मोइन, मो रेहान मौजूद रहे।

उत्तरांचल रोडवेज कर्मचारी यूनियन से जुड़े कर्मचारियों के हड़ताल पर जाने से संचालन में कोई प्रभाव नहीं पड़ा है। जो कर्मचारी काम पर नहीं आए उनकी जगह दोनों से काम  लिया गया है। ताकि यात्रियों को किसी प्रकार की दिक्कत ना हो।
एसएस बिष्ट,  सहायक महाप्रबंधक, हल्द्वानी डिपो
  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:uttarakhand roadways uttarakhand transport corporation uttarakhand roadways employees union conductors drivers strike passengers stranded across state