ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तराखंड'किशोरी को बेल्ट से पीटा, घर गई तो...'; देहरादून में नाबालिग की मौत पर सड़क से सदन तक हंगामा

'किशोरी को बेल्ट से पीटा, घर गई तो...'; देहरादून में नाबालिग की मौत पर सड़क से सदन तक हंगामा

देहरादून में एक अपार्टमेंट में 15 वर्षीय किशोरी की संदिग्ध हालात में मौत के बाद हंगामा हो गया। परिजनों ने आरोप लगाया कि किशोरी को घर में काम पर रखने वाले व्यक्ति ने दुष्कर्म के बाद उसकी हत्या की है।

'किशोरी को बेल्ट से पीटा, घर गई तो...'; देहरादून में नाबालिग की मौत पर सड़क से सदन तक हंगामा
Praveen Sharmaदेहरादून। हिन्दुस्तानFri, 01 Mar 2024 08:56 AM
ऐप पर पढ़ें

देहरादून में एक अपार्टमेंट में 15 वर्षीय किशोरी की संदिग्ध हालात में मौत के बाद हंगामा हो गया। परिजनों ने आरोप लगाया कि किशोरी को घर में काम पर रखने वाले व्यक्ति ने दुष्कर्म के बाद उसकी हत्या की है। इसे लेकर घटनास्थल के साथ ही नेहरू कॉलोनी थाने में शाम तक हंगामा चलता रहा। बच्ची के परिजन थाने में धरने पर बैठ गए। वहीं विधानसभा में भी कांग्रेस ने भी इस मुद्दे पर वॉकआउट किया।

वहीं,देर शाम देहरादून पुलिस ने इस मामले में किशोरी के परिजनों की तहरीर पर आरोपी अभिषेक उर्फ राजा लूथरा, उसकी पत्नी और एक अन्य के खिलाफ हत्या, छेड़छाड़, पॉक्सो और बाल श्रम की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है।

नेहरू कॉलोनी थाना क्षेत्र में शहर के बीचों-बीच एक फ्लैट में अभिषेक का परिवार किराये पर रहता है। गुरुवार को यह परिवार अपना सामान एक फ्लोर ऊपर के फ्लैट में शिफ्ट कर रहा था। परिवार ने घर में पड़ोस की बस्ती की 15 वर्षीय किशोरी को दो माह से काम पर रखा हुआ था। गुरुवार सुबह यह किशोरी को अचेत स्थिति में अस्पताल लेकर पहुंचे। डॉक्टरों ने किशोरी को मृत घोषित कर दिया।

किशोरी को बेल्ट से पीटा, घर गई तो नौकर खींचकर लाया

मृतका की छोटी बहन ने लूथरा परिवार पर आरोप लगाया कि उसकी बहन से मारपीट की गई। वह घर आई तो नौकर खींचकर ले गया। इसके बाद उसे मारा गया। किशोरी की छोटी बहन ने कहा कि गुरुवार को मौत से पहले बुधवार सुबह करीब साढ़े 8 बजे वह घर पहुंची थी। इस दौरान उसने कहा कि जहां उसकी बहन काम करती थी, वहां उसका उत्पीड़न किया जा रहा था। उसने बताया कि 27 फरवरी को परिवार को एक पार्टी में जाना था। वह तैयार हो रहे थे। आरोप है कि इस दौरान आरोपी परिवार की बेटी ने किशोरी को थप्पड़ मारा था।

आरोप है कि विरोध करने पर दंपति ने किशोरी की बेल्ट से पिटाई की। उसे अपने घर भी नहीं जाने दिया। बुधवार सुबह साढ़े 8 बजे चोरी-छिपे वह अपने घर पहुंची। इसके करीब एक घंटे बाद आरोपी परिवार का नौकर वहां पहुंचा। आरोप है कि वह किशोरी को खींचकर अपने घर ले गया। किशोरी की छोटी बहन ने पुलिस को यह भी बताया कि वह बुधवार शाम 4 बजे आरोपी परिवार के घर में गई थी। वहां महिला ने बड़ी बहन से मिलने नहीं दिया। नौकर को बोलकर उसे फ्लैट से बाहर सड़क पर छुड़वा दिया। इस बीच गुरुवार सुबह उसकी मौत हो गई। किशोरी की तीन अन्य बहन और एक भाई है। सभी नाबालिग हैं।

सीसीटीवी में स्टूल लेकर बाथरूम की ओर जाती दिखी किशोरी

फ्लैट में किशोरी की मौत उस वक्त हुई, जब यह परिवार अपना फ्लैट एक तल ऊपर शिफ्ट कर रहा था। फ्लैट के सीसीटीवी फुटेज चेक किए गए तो उसमें पता लगा कि किशोरी सुबह 9:37 बजे एक स्टूल लेकर बाथरूम की तरफ जा रही थी। इस दौरान यह परिवार नौकर संग फ्लैट का सामान शिफ्ट कराते रहे। इसके बाद करीब 10:19 बजे यह परिवार अचानक किशोरी को अचेत स्थिति में लेकर निकला। शुरुआती पूछताछ में परिवार ने पुलिस को बताया कि बच्ची उन्हें घर के बाथरूम में फांसी के फंदे पर लटकी मिली। फंदे से उतारकर वह बच्ची को अस्पताल लेकर गए। उन्होंने कहा कि बच्ची ने आत्महत्या की।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें