ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तराखंडगढ़वाल में आसमान से बरसी आफत, बारिश से घरों और दुकानों में घुसा मलबा; सात जिलों में बारिश के आसार

गढ़वाल में आसमान से बरसी आफत, बारिश से घरों और दुकानों में घुसा मलबा; सात जिलों में बारिश के आसार

Uttarakhand Weather: उत्तराखंड में बारिश ने जहां गर्मी से राहत दिलाई वहीं कई जिलों में आफत भी बन गई। पौड़ी और उत्तरकाशी के कई गांवों में मूसलाधार बारिश से घरों-दुकानों में मलबा घुस गया।

गढ़वाल में आसमान से बरसी आफत, बारिश से घरों और दुकानों में घुसा मलबा; सात जिलों में बारिश के आसार
Sneha Baluniहिन्दुस्तान,पौड़ी उत्तरकाशी देहरादूनThu, 23 May 2024 08:31 AM
ऐप पर पढ़ें

उत्तराखंड के विभिन्न हिस्सों में बुधवार शाम हुई। इससे जहां कई जगह गर्मी से राहत मिली तो कई जगह मुसीबत खड़ी हो गई। पौड़ी और उत्तरकाशी के कई गांवों में मूसलाधार बारिश से घरों-दुकानों में मलबा घुस गया। साथ ही कई जगह सड़कें भी बाधित हो गईं। चौबट्टाखाल के बीरोंखाल ब्लॉक के ग्राम सुकई और फरसाड़ी में भारी बारिश से 30 मीटर हाईवे ध्वस्त होने के साथ काफी नुकसान हुआ। 

स्थानीय विधायक और कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज ने पौड़ी के डीएम को प्रभावितों को राहत पहुंचाने और कनेक्टिविटी बहाल करने के निर्देश दिए। उधर, बंगारस्यू के ग्राम सुकई तथा उत्तरकाशी के चिन्यालीसौड़ में बारिश के कारण कई घरों-दुकानों और कुछ गोशालाओं में पानी तथा मलबा भर गया। उधर, राठ क्षेत्र के 25 से 30 गांव भी बारिश से प्रभावित हुए। 

जिपं सदस्य, खंडूली आशुतोष पोखरियाल ने बताया कि बारिश से पेयजल लाइन, टैंक, बिजली आपूर्ति प्रभावित हुई है। साथ ही बैजरो, बेदीखाल व कोटद्वार स्टेट हाईवे और चपलोड़ी-चोरीखल-थैलीसैंण मोटर मार्ग बंद हो गया। पौड़ी के डीएम डॉ. आशीष चौहान ने आपदा कंट्रोल रूम पहुंच स्थिति का जायजा लिया। उन्होंने बताया कि प्रभावित इलाकों में राहत सामग्री और आपदा रेस्क्यू वाहन भेज दिए हैं।

कुमाऊं में बारिश के चलते कई मार्ग बंद

उधर, कुमाऊं में भी बुधवार शाम तेज बारिश ने जीवन अस्त व्यस्त कर दिया। हल्द्वानी-अल्मोड़ा हाईवे, रामनगर-बदरीनाथ सहित कई मार्ग एक से दो घंटे तक बंद रहे। अल्मोड़ा और नैनीताल में कई स्थानों पर पहाड़ों से आया मलबा घरों, दुकानों और प्रतिष्ठानों में घुस गया। मुनस्यारी व धारचूला के उच्च हिमालयी क्षेत्रों में ग्लेशियर पिघलने तथा बारिश से गोरी, काली, रामगंगा, धौली नदी का जलस्तर बढ़ता जा रहा है। ऐसे में नदी किनारे की आबादी की मुश्किलें बढ़ गई हैं।

देहरादून के कई इलाकों में बारिश ने गर्मी से दिलाई राहत

देहरादून के कई इलाकों में बुधवार को बारिश दर्ज की गई। दोपहर बाद बारिश से लोगों को गर्मी से राहत मिली। दून में अधिकतम तापमान सामान्य से दो डिग्री ज्यादा यानी 37.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। शहर में बुधवार सुबह से दोपहर तक धूप खिली रही। हवाएं ज्यादा गर्म नहीं थीं। दोपहर बाद आईटी पार्क, सहस्रधारा, कैनाल रोड, राजपुर, मालदेवता समेत कई इलाकों में बारिश हुई। मौसम निदेशक डॉ. बिक्रम सिंह ने बताया कि दून में आज अधिकतम तापमान 38 और न्यूनतम 24 डिग्री रह सकता है।

सात जिलों में बारिश के आसार

राज्य के सात पहाड़ी जिलों में आज बारिश हो सकती है। शेष जिलों में मौसम शुष्क रहेगा। बुधवार को मौसम विभाग की ओर से यह पूर्वानुमान जारी किया गया। चारधाम में भी तीन दिन तक हल्की बारिश की संभावना है।