ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तराखंडउत्तराखंड के लिए आज का दिन भारी; IMD ने जारी किया तूफानी बारिश का रेड अलर्ट, कई जिलों में स्कूल बंद

उत्तराखंड के लिए आज का दिन भारी; IMD ने जारी किया तूफानी बारिश का रेड अलर्ट, कई जिलों में स्कूल बंद

Uttarakhand Weather Forecast: मौसम विभाग ने उत्तराखंड में सोमवार को भारी से ज्यादा भारी बारिश का रेड अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग की चेतावनी को देखते हुए कई जिलों में स्कूल बंद रखने के आदेश हैं।

उत्तराखंड के लिए आज का दिन भारी; IMD ने जारी किया तूफानी बारिश का रेड अलर्ट, कई जिलों में स्कूल बंद
Krishna Singhभाषा,देहरादूनMon, 14 Aug 2023 12:41 AM
ऐप पर पढ़ें

उत्तराखंड में बारिश का दौर जारी है। इस बीच मौसम विभाग ने उत्तराखंड के छह जिलों में सोमवार के लिए भारी बारिश का रेड अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग ने रेड अलर्ट के दौरान कहीं-कहीं भारी से बहुत भारी बारिश की चेतावनी दी है। इस दौरान गरज चमक के साथ बारिश के तीव्र से अति तीव्र दौर का पूर्वानुमान व्यक्त किया गया है। सूबे में विभिन्न स्थानों पर लगातार हो रही बारिश के कारण कई सड़कें बंद हैं। मौसम विभाग की चेतावनी को देखते हुए राज्य सरकार ने संबंधित जिलों के जिलाधिकारियों एवं एसडीआरएफ को 24 घंटे तक अलर्ट मोड में रहने का निर्देश दिया है।

जिलाधिकारियों को अलर्ट रहने के निर्देश
मौसम विभाग की चेतावनी को देखते हुए सरकार ने संबंधित जिलों के जिलाधिकारियों को अगले 24 घंटे तक अलर्ट मोड पर रहने का निर्देश जारी किया है। इस दौरान राज्य आपदा प्रतिवादन बल (एसडीआरएफ) को भी किसी भी आदेश के लिए तैयार रहने के निर्देश दिए गए हैं ताकि किसी आपदा की स्थिति में तुरंत घटनास्थल पर पहुंचकर लोगों को मदद पहुंचाई जा सके। 

इन जिलों में भारी बारिश की चेतावनी
देहरादून मौसम केंद्र द्वारा जारी ताजा पूर्वानुमान में टिहरी, देहरादून, पौड़ी, चंपावत, नैनीताल और उधमसिंह नगर जिलों में रविवार और शुक्रवार के लिए बारिश का रेड अलर्ट जारी किया गया है। हरिद्वार जिले में आरेंज अलर्ट है।

कई जिलों में स्कूल कॉलेज बंद
रेड अलर्ट को देखते हुए देहरादून तथा चंपावत के जिलाधिकारियों ने सोमवार को कक्षा एक से 12 तक के स्कूलों को बंद रखने के आदेश दिए हैं। अधिकारियों ने बताया कि भारी बारिश के कारण प्रदेश में सामान्य जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हुआ है। इस साल अतिवृष्टि के कारण प्रदेश में भूस्खलन, बाढ़ और बादल फटने जैसी प्राकृतिक आपदाओं में जान-माल का भी नुकसान हुआ है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें