ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तराखंडरामलला के दरबार में उत्तराखंड सरकार, कैबिनेट संग अयोध्या जाएंगे CM धामी; इस दिन का बना प्लान

रामलला के दरबार में उत्तराखंड सरकार, कैबिनेट संग अयोध्या जाएंगे CM धामी; इस दिन का बना प्लान

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी कैबिनेट मंत्रियों के साथ अयोध्या जाएंगे। CM धामी 2 फरवरी को अयोध्या में राम मंदिर दर्शन करेंगे। मुख्यमंत्री कार्यालय ने इसकी जानकारी दी है।

रामलला के दरबार में उत्तराखंड सरकार, कैबिनेट संग अयोध्या जाएंगे CM धामी; इस दिन का बना प्लान
Abhishek Mishraएएनआई,देहरादूनThu, 25 Jan 2024 01:58 PM
ऐप पर पढ़ें

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी कैबिनेट मंत्रियों के साथ अयोध्या जाएंगे। CM धामी 2 फरवरी को अयोध्या में राम मंदिर दर्शन करेंगे। मुख्यमंत्री कार्यालय के आधिकारिक बयान के अनुसार, मुख्यमंत्री ने फैसला किया है कि सभी कैबिनेट मंत्री एक साथ श्री राम लला के दर्शन के लिए अयोध्या जाएंगे।

सीएम धामी ने इससे पहले कहा था कि भगवान श्री राम का उत्तराखंड से अटूट संबंध है। उन्होंने रामलला के प्राण प्रतिष्ठा समारोह के अवसर पर सूचना एवं जनसंपर्क विभाग द्वारा तैयार वार्षिक कैलेंडर 'सशक्त नेतृत्व समृद्ध उत्तराखंड' का विमोचन भी किया किया था। प्राण प्रतिष्ठा के दिन सीएम धामी ने अपने सरकारी आवास स्थित मंदिर में पूजा-अर्चना की और कहा कि 500 साल के लंबे संघर्ष के बाद इस भव्य महोत्सव का साक्षी बनकर मैं बेहद उत्साहित हूं।

धामी ने इस महीने की शुरुआत में हल्दवानी में आयोजित एक रामोत्सव कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा था, "भगवान श्री राम का उत्तराखंड से अटूट संबंध है। सरयू नदी का उद्गम स्थल, जिसके तट पर भगवान श्री राम के पिता और महाराज दशरथ ने संतान प्राप्ति के लिए अनुष्ठान किया था, बागेश्वर जिले में है। इसके बाद जब वह अयोध्या लौटे थे लंका का दहन और मर्यादापुरुषोत्तम राजा रामचन्द्र बने, उन्होंने अहंकारी रावण के वध को टालने के लिए देवप्रयाग के रघुनाथ मंदिर में पितृ यज्ञ किया।''

 22 जनवरी को प्राण प्रतिष्ठा के बाद से अयोध्या में राम मंदिर के दर्शन के लिए श्रद्धालुओं की भारी भीड़ उमड़ती रही है। बुधवार को कोहरे के साथ भीषण ठंड का सामना करते हुए लोग सुबह से ही रामपथ और मंदिर परिसर के आसपास लंबी कतारों में खड़े थे। अयोध्या की सड़कों पर हर उम्र के श्रद्धालु उत्साहपूर्वक ''जय श्री राम'' के नारे लगाते रहे। श्रीराम जन्मभूमि पथ के रास्तों पर भी भीड़ उमड़ी।

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देशों के अनुपालन में प्रशासन और पुलिस श्रद्धालुओं की सुरक्षा और सुविधा सुनिश्चित करने के लिए पूरी तरह तैयार थी। जैसे ही मंदिर के दरवाजे खुले, श्री राम लला की दिव्य उपस्थिति को देखकर भीड़ में खुशी की लहर दौड़ गई।
श्री रामलला के अभिषेक ने आगंतुकों की संख्या में काफी वृद्धि की है, जिससे अयोध्या तीर्थयात्रा का केंद्र बिंदु बन गया है। प्राण प्रतिष्ठा समारोह के बाद पहले दिन 5 लाख से अधिक लोगों ने दर्शन का अवसर प्राप्त किया।

अयोध्या के जिला मजिस्ट्रेट नितीश कुमार ने बताया कि दूसरे दिन यानी 24 जनवरी को रात 10 बजे तक 2.5 लाख से अधिक भक्तों को दर्शन की सुविधा प्रदान करने के प्रयास किए गए। श्रद्धालुओं की जबरदस्त प्रतिक्रिया को देखते हुए मंदिर प्रशासन ने दर्शन का समय बढ़ा दिया गया है। अब दर्शन का समय सुबह 6 बजे से रात 10 बजे तक है ताकि अधिकतम संख्या में भक्तों को जगह मिल सके। 

अयोध्या में राम मंदिर में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा सोमवार 22 जनवरी को आयोजित की गई थी। प्राण प्रतिष्ठा समारोह में राम लला की मूर्ति का अनावरण प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की उपस्थिति में घंटे भर चले अनुष्ठान के बाद किया गया। इस अवसर पर देश विदेश के तमाम VIP लोग अयोध्या पहुंचे थे।

 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें